क्या पुरानी पेंशन स्कीम बहाल करेगी मोदी सरकार ? वित्त मंत्री सीतारमण को मिली सलाह

नई दिल्ली: आगामी वित्त वर्ष 2023-24 के लिए बजट पेश करने से पहले केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से संबंधित संस्थाओं के कई नेताओं के साथ मंथन किया है। इस दौरान कई नेताओं ने वित्त मंत्री को पुरानी पेंशन व्यवस्था (OPS) बहाल करने का सुझाव दिया है। 21 से 28 नवंबर के बीच आयोजित की गई इन बैठकों में संघ से संबंधित नेताओं ने अगले बजट में 51 गौ केन्द्रित विश्वविद्यालयों की स्थापना का भी सुझाव दिया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, 2024 के चुनाव से पहले के पूर्ण बजट को लोक लुभावन बनाने का सुझाव दिया गया है, कहा गया है कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों के लिए न्यूनतम समर्थन आय में वृद्धि मुद्रास्फीति से जोड़कर किया जाए। इनके अलावा चीनी आयात को हतोत्साहित करने और ज्यादा से ज्यादा रोजगार सृजित करने के उपाय उठाने की भी सलाह दी गई है। 

बता दें कि, केंद्र की सत्ता पर काबिज भाजपा का वैचारिक स्रोत रहे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और उससे जुड़े संगठन शुरू से ही सरकार की राजकोषीय नीतियों के समर्थन में नहीं रहे हैं और उन्हें बदलने की सलाह देते रहे हैं। उदाहरण के लिए गत वर्ष RSS ने बेरोजगारी से निपटने के लिए एक प्रस्ताव पारित कर भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए 'आत्मनिर्रता' बढ़ाने का सुझाव दिया था, ताकि देश के भीतर निर्माण उद्योगों का विकास हो सके और प्रत्यक्ष विदेशी निवेश पर निर्भरता को घटाया जा सके।

गुजरात में दोपहर 1 बजे तक 34.48 फीसद हुआ मतदान, तापी जिले में सबसे अधिक वोटिंग

BSF का स्थापना दिवस आज, पीएम मोदी ने सभी वीर जवानों को दी बधाई

AAP नेता सत्येंद्र जैन को जेल या बेल ? दिल्ली हाई कोर्ट ने ED से माँगा जवाब

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -