कहीं पति को बचाने के लिए मुंह में हवा देती रही पत्नी तो कहीं अस्पताल के बाहर पति गा रहा- 'तेरे बिना भी क्या जीना'

इस समय पूरी दुनिया कोरोना के कहर से गुजर रही है। हर तरफ मौत का मंजर नजर आ रहा है। चारों तरफ से चीख-पुकार की आवाजें आ रहीं हैं जो कानों में गूंज रहीं हैं। कोई अपनों को खोने का गम झेल रहा है तो कोई खुद तड़प-तड़प कर दम तोड़ रहा है। हर तरफ से केवल दुःखभरी और दर्दभरी आवाजें आ रहीं हैं। दुनिया के कोने-कोने में मातम मनाया जा रहा है। इस बीच अस्पताल की भी कई लापरवाही सामने आ रहीं हैं जो असहनीय है। कोरोना काल ने दुनियाभर में वो हाहाकार मचाया है जो शायद ही कभी और मचा होगा। हर दिन मौते हो रहीं हैं और इन मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। इस बीच कहीं से अच्छी खबरें भी आ रहीं हैं लेकिन कहीं-कहीं दिल को दहला देने वाली घटनाएं हो रहीं हैं। कोई अपने घरवालों को ठेले से लेकर अस्पताल पहुँच रहा है तो कोई साइकिल से। ऐसी खबरें हमे रोने के लिए मजबूर कर रहीं हैं क्योंकि ऐसा मंजर न हमने कभी पहले देखा था और भगवान ना करें हमे दोबारा यह देखने को मिले। हर तरफ इस समय केवल उदासी ही उदासी है। इस समय जितने भी दृश्य आँखों के सामने आ रहे हैं वह दिल को झकझोर रहे हैं। कहीं ना कहीं मन में सवाल खड़े हो रहे हैं कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है?, हमें किन गुनाहों की सजा मिल रही है?, हम कैसे बचेंगे?, क्या कल का सूरज हम देख पाएंगे? ऐसे ही कई सवाल है जो दिल और दिमाग को परेशान कर रहे हैं। कहीं अस्पताल में लूट मची हुई है तो कहीं सरकार को चुनाव से फुर्सत नहीं है। कोरोना वायरस के इस जंजाल में केवल आम जनता पीस रही है। हर तरफ से उन्हें लूटा जा रहा है और जनता बेचारी करे भी तो क्या करें। सब मजबूर है और इतने मजबूर है कि वो सब कर रहे हैं जो सामने वाला कह रहा है। इस समय देश के हालात इतने अधिक लाचार हैं कि बाहर से मदद मांगनी पड़ रही है। कोई खाने को तरस रहा है तो कोई एक-एक बूंद पानी को। किसी की जिंदगी दाव पर लगी है तो कोई दूसरों को बचाने के लिए अपनी जिंदगी दाव पर लगा रहा है। इस बीच हम आपको दो किस्से ऐसे बताने जा रहे हैं जो हैरान भी कर रहे हैं और रोने के लिए मजबूर भी। यह किस्से कुछ ऐसे हैं जिनके बारे में सुनकर आपका दिल पिघल सकता है और हो सकता है आपकी आँखों से आंसुओं की बरसात भी होने लगे।

पति को बचाने के लिए मुंह से हवा देती रही पत्नी- यह किस्सा है आगरा जिले का, जहाँ कुछ ऐसा हुआ कि आँखे रोने के लिए मजबूर हो गईं। आप जो तस्वीर देख रहे हैं वह उस बेबस और लाचार पत्नी की है जिसने अपने पति को, अपने सुहाग को बचाने के लिए क्या कुछ नहीं किया लेकिन अंत में उसे विधवा होना पड़ा। आगरा के विकास कॉलोनी के सेक्टर-7 की रहने वाली रेनू सिंघल के पति रवि सिंघल की तबियत अचानक ही बिगड़ गई। रेनू कुछ समझ नहीं पाई और उसके पति रवि को अचानक ही सांस लेने में तकलीफ होने लगी। यह देखकर रेनू रवि को लेकर अस्पताल गई। अपने पति को ऑटो में लेटाकर रेनू अस्पताल पहुंची लेकिन और यहाँ उसको बेड भी मिल गया लेकिन कुछ ऐसा हुआ कि सुनकर दिल दहल गया। जी दरअसल बेड पर जाने से पहले ऑटो में ही रवि सिंघल की हालत और बिगड़ने लगी। यह देखकर बेबस रेनू कुछ न कर सकी लेकिन उसने अपने पति की जान बचाने के लिए अपने मुंह से उसके फेफड़ों तक सांसें पहुंचाने का काम करना शुरू कर दिया। वह बिना थके यह करती रही और काफी देर तक वह माउथ टू माउथ ऑक्सीजन देती रही। अंत में उसकी सारी कोशिशे नाकाम हो गई और रवि ने ऑटो में ही अपनी पत्नी की गोद में तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया। यह वह किस्सा है जो दिल को दहला रहा है और यह वह तस्वीर है जो आँखों में आंसू ला रही है। ऐसे दृश्य जब आँखों के सामने आ रहे हैं तो अपनी लाचारी और बेबसी पर रोना आ रहा है।

पत्नी कोरोना संक्रमित​ तो अस्पताल के बाहर पति गा रहा गाना- यह किस्सा है एक ऐसे पति का जिसकी पत्नी कोरोना संक्रमित हो गई और उसके बाद उसकी बिगड़ती स्थिति को देखते हुए उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया। यहाँ उसके साथ कोई नहीं है। जैसा कि हम जानते हैं कि केवल कोरोना मरीज ही अस्पताल में रह सकता उसके अलावा कोई नहीं। पत्नी के अस्पताल में भर्ती होने के बाद पति अस्पताल के बाहर ही खड़ा है और वह अपनी पत्नी के लिए गाना गा रहा है- 'ओ साथी रे तेरे बिना भी क्या जीना'। आप इस वीडियो में देख सकते हैं कितने दर्दभरे सुरों के साथ पति अपनी पत्नी का हौसला बढ़ा रहा है और उसे जल्द से जल्द वापस लौटने के लिए प्रेरणा दे रहा है। यह वीडियो कहाँ का है यह अब तक पता नहीं लग पाया है लेकिन इस समय इस वीडियो ने सबका दिल जीता हुआ है। जो इस वीडियो को देख रहा है रोने के लिए मजबूर हो रहा है। इस वीडियो में आप देख सकते हैं युवक की आँखों में कितना दर्द है। अपने संगीत के माध्यम से पति जिस तरह अपनी पत्नी का हौसला बढ़ा रहा है वह वाकई में काबिल-ए-तारीफ़ है। इस वीडियो को Indore News नाम के एक यूट्यूब चैनल द्वारा शेयर किया गया है और इस वीडियो को देखने के बाद जो अहसास हो रहा है उसे हम शब्दों में बयान नहीं कर सकते। अब मन में एक ही सवाल उठ रहा है कि आखिर कब तक इस कोरोना संक्रमण से लड़ना होगा? 

'मेरी माँ को बचा लो।।' गिड़गिड़ाता रहा बेटा, लेकिन VIP के लिए ऑक्सीजन छीन कर ले गई पुलिस ! वीडियो वायरल

कोरोना से लड़ने के लिए 5 लाख और ICU बेड की जरूरत, एक्सपर्ट्स ने चेताया

आंध्रप्रदेश सरकार ने ईपीएफ घोटाला मामले में लिया ये महत्वपूर्ण फैसला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -