राम मंदिर भूमि पूजन पर खुश दिखे सीएम योगी, पीएम ने बोली थी ऐसी बात

राम मंदिर भूमि पूजन पर खुश दिखे सीएम योगी, पीएम ने बोली थी ऐसी बात

बुधवार को अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन किया जा चुका है. जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी भी शामिल हुए थे. भूमि पूजन के पश्चात अयोध्या सहित समूचे भारत में दीवाली सा माहौल व्याप्त हो गया है. हर स्थान जश्न की फोटो सामने आईं. वैसे राम मंदिर निर्माण और उसके आंदोलन से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का व्यक्तिगत रिश्ता रहा है. वह जिस गोरक्षपीठ के महंत हैं, उसका राम मंदिर संघर्ष में पीढ़ियों से योगदान रहा है. यही वजह है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने भी अयोध्या आने के बाद गोरक्षपीठ को याद किया.

चीन मुद्दे पर फिर हमलावर हुए राहुल गाँधी, पीएम मोदी से पुछा- सच क्यों नहीं बोलते ?

बता दे कि राम जन्मभूमि शिलान्यास से पहले जैसे ही साकेत महाविद्यालय के हेलीपैड पर पीएम नरेंद्र मोदी चॉपर से उतरे. यहां उनके स्वागत में खड़े सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनकी अगवानी की. इस दौरान पीएम ने बताया कि योगी जी आप तो आज बहुत खुश हो रहे होंगे, क्योंकि आपके गुरुजनों ने राम मंदिर निर्माण के लिए काफी आंदोलन किए ​थे. आपको बहुत-बहुत शुभकामानएं.

इस राज्य में 10 अगस्त से खुल जाएंगे जिम

इसके अलावा राम मंदिर को लेकर आंदोलन की गोरक्षपीठ के तीन पीढ़ियों की कहानी 1934 से प्रारंभ हुई, और भूमि पूजन के गवाह बने है. चाहे राम जन्मभूमि पर प्रभू राम के प्रकटीकरण का केस हो, जब गोरक्षपीठ के वर्तमान महंत दिग्विजय नाथ महाराज मौजूद थे. जिसके बाद राम मंदिर का ताला खोला गया. उस वक्त योगी आदित्यनाथ के गुरु अवैद्यनाथ को रात में स्टेट प्लेन भेजकर तत्कालीन मुख्यमंत्री वीर बहादुर सिंह ने बुलवाया. उनके सामने राम जन्मभूमि का ताला खोला गया. फिर प्रतीकात्मक शिलान्यास की बात हो जब अवैद्यनाथ जो सीएम योगी के गुरु थे, उन्होंने फावड़ा चलाकर रामचंद्र परमहंस के साथ प्रारंभ किया था. फिर आज जब मंदिर निर्माण प्रारंभ हो रहा है, जब गोरक्षपीठ के पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ यूपी के सीएम हैं.

पालघर केस में 'लेटलतीफी' पर भड़की SC, सरकार से पुछा- अब तक क्या किया ?

ओवैसी पर इस पूर्व भाजपा अध्यक्ष ने लगाया नफरत फैलाने का आरोप

तमिलनाडु के डॉक्टर्स पर सबसे अधिक बरपा कोरोना का कहर