कील से आँखें निकाली.. गले को जूतों से कुचला.., कानपुर में 10 वर्षीय मासूम के साथ दरिंदगी की हदें पार

कानपुर: नग्न शरीर, सिगरेट से जलाने के निशान, कील द्वारा निकाली गई आंख और गर्दन के पास जूते के निशान.... कानपुर में 10 वर्षीय एक मासूम की लाश मिलने के बाद देशभर में हड़कंप मच गया है. बच्चे के साथ ऐसी हैवानियत की गई है, जिसे देख सुनकर इलाके के लोगों के साथ-साथ उन पुलिसवालों की भी रूह कांप उठी हैं, जो बॉडी का पंचनामा करने पहुंचे थे. बच्चा दो दिन पहले लापता हुआ था, जिसका शव मंगलवार को बरामद हुआ. बच्चे के कातिलों ने उसकी आंख तक फोड़ दी थी. आंख के पास एक कील मिली है, आशंका जताई जा रही है आंख में कील गाड़कर आंख निकाली गई है.

वहीं, बच्चे के गर्दन के पास एक जूते के निशान मिले हैं. इससे बच्चे की गर्दन को जूते से कुचले जाने की आशंका भी जताई जा रही है. बच्चे के शव के पास से दो गिलास और दारू की बोतल भी बरामद है. शक है कि कातिल दो रहे होंगे और उन्होंने दारू पीने के बाद बच्चे को तड़पाते हुए मौत के घाट उतारा होगा. बच्चे के चेहरे पर सिगरेट से दागे जाने जैसे निशान भी पाए गए हैं. हत्या के बाद बच्चे को जमीन पर घसीटने के भी निशान मिले हैं. बच्चे के शरीर का पिछला हिस्सा काला पड़ा हुआ है. कानपुर आउटर के पुलिस अधीक्षक अजीत कुमार सिन्हा खुद कह रहे हैं कि बच्चे के साथ जिस प्रकार की हैवानियत की गई है, उससे कातिलों के बच्चों को लेकर नफरत दिखती है, यह नफरत क्यों थी? यह कातिलों को गिरफ्तार करने के बाद ही पता चलेगा. 

पुलिस अधीक्षक अजीत कुमार सिन्हा ने कहा कि बच्चे के साथ हुई बेरहमी देख मेरी भी रूह कांप गई है. इस मामले में पुलिस की लापरवाही भी सामने आ रही है, क्योंकि परिवार वालों का कहना है कि बच्चा सोमवार से लापता था, तो वह चौकी गए थे और थाने भी गए थे, मगर दोनों जगह पुलिस ने तत्काल कार्रवाई न करके, दूसरे दिन आने के लिए कह दिया, जबकि अगले दिन बच्चे का शव मिला. अभी, बच्चे के शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. 

इस मामले में कानपुर आउटर के पुलिस अधीक्षक अजीत सिन्हा का कहना है कि बच्चे की मौत में पुलिस की जो लापरवाही है, उसकी भी तफ्तीश होगी ,पोस्टमार्टम में जो तथ्य निकलकर सामने आएंगे, उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी, अभी तक परिवार वालों की शिकायत पर अज्ञात लोगों पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई है. इस बच्चे के साथ कुकर्म की आशंका भी जाहिर की जा रही है, मगर पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हम कुछ कह सकते हैं.

बाल तस्करी मामला: ओडिशा पुलिस ने 3 लोगों को किया गिरफ्तार

घर में फैक्ट्री लगाकर बनाई जा रही थी नकली दवाइयां, पुलिस ने इस तरह किया भंडाफोड़

2 बच्चों को गोद में लेकर महिला ने किया आत्मदाह, मामला जानकर काँप जाएंगी रूह

Most Popular

- Sponsored Advert -