उत्तर प्रदेश सरकार ने त्योहारी सीजन के लिए जारी किए नए दिशानिर्देश

आगामी शारदीय नवरात्रि, विजयादशमी, दशहरा त्योहारों और चेहल्लम के मद्देनजर कानून-व्यवस्था और सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने के लिए, उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड-19 महामारी के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए नए दिशानिर्देशों को जारी कर दिया है। जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस जैसी महामारी के बाद राज्य सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करने के लिए कहा है।

हम बता दें कि दुर्गा पूजा और रामलीला पंडालों के कारण सार्वजनिक आवाजाही और यातायात प्रभावित नहीं होना चाहिए। मूर्तियों को पारंपरिक लेकिन खाली जगहों पर स्थापित किया जाना चाहिए। जमीन की क्षमता से ज्यादा लोग नहीं होने चाहिए। मूर्तियों का आकार जितना हो सके छोटा रखना चाहिए।

मूर्तियों के विसर्जन के लिए छोटे वाहनों का प्रयोग किया जाना चाहिए और विसर्जन कार्यक्रमों में कम से कम लोगों को शामिल किया जाना चाहिए। मूर्ति विसर्जन के समय सभी कोविड-19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए। मोटर व्हीकल एक्ट के नियमों का कड़ाई से पालन किया जाए और संदिग्ध वाहनों की जांच बैरियर और पुलिस चेक पोस्ट लगाकर की जाए। साथ ही बिजली, पेयजल और साफ-सफाई जैसी सार्वजनिक सुविधाओं पर विशेष ध्यान दिया जाए।

छत्तीसगढ़ के पूर्व भाजपा मंत्री ने खुद को उतारा मौत के घाट, जानिए क्या है वजह

आगामी विधानसभा चुनाव से पहले गोवा का दौरा करेंगे सीएम केजरीवाल

आखिर क्यों खत्म नहीं हो रहा कोरोना का कहर, 24 घंटों में फिर सामने आए डरा देने वाले मामले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -