जैश फिर बना रहा था हमले की योजना, तभी की कार्रवाई : सुषमा स्वराज

Feb 27 2019 09:36 AM
जैश फिर बना रहा था हमले की योजना, तभी की कार्रवाई : सुषमा स्वराज

बीजिंग : भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ हुई मुलाकात में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए आतंकवादी हमले का मुद्दा उठाया। स्वराज ने आतंकवाद का मुद्दा उठाते हुए कहा कि पुलवामा में भयानक आतंकी हमला ये याद दिलाता है कि सभी देशों तो आतंकवाद के खिलाफ जीरो टोलिरेंस की नीति अपनानी होगी।

आज दूसरी बार हनोई में मिलेंगे किम जोंग उन और डोनाल्ड ट्रम्प 

देश में शोक और गुस्से का माहौल 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार रूस-भारत-चीन के विदेश मंत्रियों की बैठक से अलग हुई इस मुलाकात के दौरान स्वराज ने कहा, ‘‘मैं ऐसे वक्त में चीन आयी हूं जब भारत में शोक और गुस्से का माहौल है। यह जम्मू-कश्मीर में हमारे सुरक्षा बलों के खिलाफ सबसे भीषण हमला है।’’  उन्होंने कहा, ‘‘यह हमला पाकिस्तान स्थित और समर्थिक संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने किया है।

विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल होने के लिए चीन रवाना हुई सुषमा स्वराज

 कारण लिया गया ऐसा निर्णय 

इसी के साथ स्वराज ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मांग के बाद भी पाकिस्तान ने गंभीर होने बजाय हमले की जानकारी होने से इनकार कर दिया और जैश-ए-मोहम्मद के कबूलनामों को भी नहीं माना। स्वराज ने बैठक में कहा कि पाकिस्तान अपने यहां आतंकवादी संगठनों के पलने की बात मानने से और उनपर कार्रवाई करने से इनकार करता रहा है। जैश-ए-मोहम्मद आगे भी भारत पर हमले की योजना बना रहा था। भारत सरकार ने इसपर कार्रवाई करने का निर्णय लिया। 

पीएम मोदी ने किया 800 किलो की भगवद्गीता का अनावरण, सोने चांदी का हुआ है इस्तेमाल

इमरान खान की गीदड़भभकी, कहा भारत ने दिखाई अनावश्यक आक्रामकता, हम जवाब जरूर देंगे

Surgical Strike 2: पाक के लिए मित्र चीन ने दिखाई हमदर्दी, कहा संयम बरतें