मोदी के हिसाब से नहीं चलता देश

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने नोटबंदी का निर्णय तो ले लिया है लेकिन सरकार को नोटबंदी से उपजी समस्या के चलते जिन लोगों की मौतें हुई हैं, उन मौतों को लेकर श्राप लगेगा। यह कहना है शारदा और द्वारका पीठ के शंकराचार्य जगद्गुरू स्वरूपानंद सरस्वती का। शंकराचार्य ने केंद्र सरकार की आलोचना करने के ही साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कार्यकाल तो अंग्रेजी राज से भी बदतर है।

शंकराचार्य पहले भी विभिन्न मसलों पर अपनी राय दे चुके हैं। शंकराचार्य द्वारा गौहत्या को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा जाता रहा है अब वे नोटबंदी पर केंद्र सरकार का विरोध करने लगे हैं। शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का जो निर्णय लिया वह गलत है। आखिर मोदी आजादी से लेकर अब तक का हिसाब लेने की बात कर रहे हैं। हिसाब लेने का काम तो कानून का है पीएम मोदी कैसे हिसाब लेने की बात करते हैं।

उनका कहना था कि देश तो संविधान के हिसाब से चलता है पीएम मोदी के अनुसार देश थोड़े ही चलता है। उनका कहना था कि इस तरह से लंबी कतार में जनता को दुखी करना सही नहीं है। उनका कहना था कि जो मौतें नोटबंदी के फैसले के बाद बैंकों में भीड़ बढ़ने से हुई हैं उनका श्राप पीएम मोदी को ही लग सकता है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -