अगर शनिवार को मंदिर के बाहर से चोरी हो जाए आपकी चप्पल तो समझ जाइए...

आए दिन हम हमारे जीवन में होने वाली छोटी-मोटी संकेतों से जान सकते हैं कि शनि देव हमारे ऊपर प्रसन्न है या नहीं. जी हाँ, इसी के साथ कहते हैं कि शनि का संबंध खास पैरों से होता है और यही से पहचान किया जा सकता है कि वह हमपर खुश है या नहीं. ऐसे मे कई बार मंदिर में भगवान के दर्शन करने के बाद आपके जूते या चप्पल चोरी या गुम हो जाती है. कहते हैं यह घटना आपके लिए शनि के शुभ संकेत की तरफ इशारा करती हैं यानि शनि आपका पीछा छोड़ने वाले हैं.

जी हाँ, इसी के साथ जो व्यक्ति घर के अंदर जूते-चप्पल पहनकर आता है उसी के साथ घर में राहु और केतु जैसे पापी ग्रह भी घर के अंदर प्रवेश कर जाते हैं और घर के मुख्य द्वार पर जूते-चप्पल नहीं रखना चाहिए इससे नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है. कहते हैं शनि की अशुभ छाया से अगर आप बचना चाहते हैं तो इसके लिए शनिवार के दिन काले रंग की चमड़े की चप्पल या जूते को मंदिर के बाहर उतार का बिना पलटे वापस आने से शनि दोष से छुटकारा मिल जाता है. माना जाता है कि अगर फटे और पुराने जूते पहने जाए तो इससे शनि की अशुभ छाया और घर पर दरिद्रता का वास हो जाता है.

इसी के साथ यह भी कहते हैं कि शनिवार को जूते-चप्पल नहीं खरीदना चाहिए क्योंकि शनि का संबंध पैरों से माना जाता है. कहते हैं उस दिन जूते-चप्पल खरीदने से शनि संबंधी पीड़ा घर मे आ जाती है और सब कुछ बुरा होने लगता है.

गुरूवार को ऐसी पोटली बनाकर रख दें तिजोरी में, अथाह आएगा पैसा और सोना

आज अपने पर्स या जेब में रख लें इस रंग का कपड़ा, बदल जाएगी आपकी किस्मत

अपने सभी कामों की पूर्ति के लिए बुधवार को श्रीगणेश को चढ़ा दें यह चीज़

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -