गुरूवार को ऐसी पोटली बनाकर रख दें तिजोरी में, अथाह आएगा पैसा और सोना

कहते हैं गुरूवार का दिन वास्तु और ज्योतिष के संदर्भ में अत्यधिक शुभ माना होता है और बृहस्पतिवार मूलत: देवी लक्ष्मी के नाथ भगवान विष्णु को समर्पित माना जाता है. ऐसे में यह सभी जानते ही है कि देवी लक्ष्मी भगवान विष्णु के बिना कहीं ठहरती नहीं हैं और गुरूवार को बृहस्पतिदेव से जोड़कर देखा जाता है. ऐसे में बृहस्पति को तथा बृहस्पति देव को शिव भक्त के रूप में भी जाना जाता है और वास्तु के दृष्टिकोण से बृहस्पति देव की दिशा उत्तर पूर्व अर्थात ईशान कोण है. ऐसे में ईशान कोण को ईश्वर और कुबेर की दिशा माना जाता है और इसका धन संग्रह और सोने की प्राप्ति के लिए सर्वोत्तम आशय माना जाता है.

आप सभी को बता दें कि गुरूवार के दिन बनाई गई ये पोटली आपका धन और सोने का खजाना भर सकती है. जी हां, इस पोटली में समाहित कुछ विशेष चीजें आम घर में होने वाली चीजों से बनाई जाती हैं और इस पोटली को बनाने के लिए गुरूवार का प्रदोषकाल श्रेष्ठ माना जाता है और इसी दिन इसे आप तिजोरी में रखकर आपने घर में सोना ही सोना ला सकते हैं. अब आइए जानते हैं कैसे बनाए पोटली.

इसके लिए घर के पूजा घर में एक पीला कपड़ा बिछा लें और अब इच्छानुसार उसमें यह चीजें भर लें चना दाल, हल्दी की गांठे, एक साबुत लाल मिर्च और सोने का एक टुकड़ा. अब उसके बाद इस पोटली को पूजा घर में विधिवत पूजन कर तथा देवों पर अर्पित कर मौली से बांध लें. बांधने के बाद सूर्य अस्त से पहले इस पोटली को घर की तिजोरी में रख लें. आप सभी को बता दें कि जब आप यह काम करें तो आपको कोई देखें का इस बात का ध्यान रखे. ऐसा करने से आपके घर में सोना खींचा चला आएगा और आप अमीर बनते चले जाएंगे.

आपको हर काम में सफलता दिलाएगा आज के दिन किया गया आदित्य हृदय स्तोत्र पाठ

मकर संक्रांति के बाद से शुरू हो जाएंगे आपके अच्छे दिन, कर लें खखोल्क मंत्र का जाप

मकर संक्रांति पर कर लें इस मंत्र का जाप, मिलेगा सब जो चाहते हैं आप

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -