सावन के अंतिम सोमवार में बन रहा खास योग

Aug 20 2018 09:40 AM
सावन के अंतिम सोमवार में बन रहा खास योग

आज सावन महीने का अंतिम सोमवार है और देश के हर शिव मंदिर में भक्तों की भीड़ उमड़ी है. दिल्ली, वाराणसी, उज्जैन जैसी जगहों पर शिव भक्तों का तांता लगा हुआ है. दूर-दूर से लोग आ रहे हैं भगवान शिव का अभिषेक कर उन्हें प्रसन्न कर रहे रहे हैं. सावन के अंतिम सोमवार अगर आप विशेष अभिषेक करते हैं तो आपको इसका विशेष लाभ मिल सकता है. सावन का अंतिम सोमवार जो ज्येष्ठा नक्षत्र और वैधृतियोग में आरम्भ हुआ और इस नक्षत्र और योग के कारण महादेव का अभिषेक करना अत्यंत दुर्लभ माना जाता है. आइये जानते हैं क्या होता है वैधृति योग.

Sawan Month 2018 : सावन के आखिरी सोमवार को शिव दर्शन के लिए भक्तों की उमड़ी भीड़

वैधृति योग 
ये योग बहुत ही शुभ होता है और इसी के साथ महादेव की पूजा और जलाभिषेक किया जाये तो बहुत लाभकारी हो जाता है. इसको करने से जीवन की कई परेशानियां दूर होती हैं. जिन्हें घरेलू तनाव हो, पिता पुत्र में अनबन की स्थिति हो स्वास्थ्य अच्छा ना रहता हो और ऐसी ही कई बड़ी-बड़ी परेशानियां हो तो इससे बाहर निकलने के लिए भगवान शिव का अभिषेक करना चाहिए जो आपके लिए बहुत ही खास होता है और आपके जीवन की सभी मुसीबतों को कम करेगा.

ज्येष्ठा नक्षत्र
ये योग बहुत ही लाभकारी होता है और खास बात ये है कि ज्येष्ठा नक्षत्र सोमवार को पड़ रहा है. इस दिन आप भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं तो आपकी इच्छाएं पूरी होंगी. अगर आप धन और संतान की इच्छा रखते हैं और इससे आपको जरुरी मिलेगी. जिन्हें अपनी संतान की चिंता है उन्हें भी शिव का जलाभिषेक करना चाहिए. अभिषेक के लिये जल, दूध, अक्षत, काला तिल और जौ डाल कर महादेव का अभिषेक करे और ॐ गौरिशंकराय नमः से अभिषेक करे और इस मंत्र का जाप करे. इससे आपको लाभ मिलेगा.

यह भी पढ़ें..

सावन का चौथा सोमवार दिलाएगा राजयोग

सावन के चौथे सोमवार ऐसे करें भगवान शिव की पूजा

सावन में दिखे ये पक्षी तो होता है लाभ

?