अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 19 पैसे की गिरावट के साथ 74.62 पर

 

कच्चे तेल की ऊंची कीमतों, विदेशी मुद्रा बहिर्वाह और घरेलू इक्विटी में भारी नुकसान के कारण सोमवार को भारतीय रुपया 19 पैसे गिरकर 74.62 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

विदेशी मुद्रा व्यापारियों ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में अमेरिकी डॉलर की मजबूती का भी स्थानीय मुद्रा पर असर पड़ा। इसके अलावा, बाजार सहभागियों अब अतिरिक्त संकेतों के लिए यूएस फेडरल रिजर्व की 25-26 जनवरी की बैठक देख रहे हैं।

इंटरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में डॉलर  के मुकाबले स्थानीय मुद्रा 74.43 पर खुली और पूरे सत्र में 74.42 और 74.69 के बीच कारोबार किया। अंत में, रुपया 74.62 पर बंद हुआ, जो पिछले 74.43 के पिछले बंद से 19 पैसे या 0.26 प्रतिशत नीचे था।

कच्चे तेल की कीमतों के लिए वैश्विक बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड फ्यूचर्स 0.33 प्रतिशत बढ़कर 88.18 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

बीएसई सेंसेक्स 1,545.67 अंक या 2.62 प्रतिशत कम 57,491.51 पर बंद हुआ, जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 468.05 अंक या 2.66 प्रतिशत गिरकर 17,149.10 पर बंद हुआ। स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशक शुक्रवार को पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाली करते रहे, उन्होंने  3,148.58 करोड़ रुपये के शेयरों की ऑफलोडिंग की।

IGT के स्टेज पर 'बैड साल्सा 2.0' ने दिया ऐसा परफॉरमेंस की निकल गई जजेस की चीख

विशेषज्ञों का कहना है कि आने वाले हफ्तों में भारत में ओमिक्रोन केस और बढ़ सकते है

रेलवे ने यात्रियों को दिया बड़ा तोहफा, टिकट बुक करवाने का झंझट खत्म

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -