अग्निपथ योजना के खिलाफ पंजाब विधानसभा में प्रस्ताव पेश

अमृतसर: पंजाब के सीएम और आम आदमी पार्टी (AAP) भगवंत मान ने गुरुवार को विधानसभा में केंद्र सरकार द्वारा लाइ गई अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव पेश किया है। बजट सत्र के दौरान सीएम मान ने यह प्रस्ताव रखा है। इसके अनुसार, राज्य सरकार केंद्र के समक्ष अग्निपथ योजना को फ़ौरन वापस लेने की मांग रखेगी।

प्रस्ताव पढ़ते हुए विधानसभा में भगवंत मान ने कहा कि, 'भारत सरकार की ओर से अग्निपथ योजना का एकतरफा ऐलान किए जाने के कारण देश भर में विरोध हुए। पंजाब में भी इस योजना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए गए।' मान ने आगे कहा कि, पंजाब विधानसभा को लगता है कि यह योजना युवाओं को सिर्फ चार वर्ष ही रोजगार देगी और बाद में केवल 25 फीसदी को ही परमानेंट किया जाएगा। यह योजना ना तो राष्ट्रहित के नजरिए से सही है और ना ही युवाओं के हित में है। इससे युवाओं में असंतोष बढ़ेगा। काफी सारे युवा लंबे समय तक सेना में रहकर देश की सेवा करने की इच्छा रखते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि, गौर करने वाली बात है कि पंजाब के एक लाख से अधिक सैनिक सेना में रहकर देश की सेवा कर रहे हैं और काफी सारे लोग देश सेवा में प्राणों को भी न्योछावर कर देते हैं। ये युवा सेना में रहकर देश सेवा करने में ही गर्व का अनुभव करते हैं। इन युवाओं को उनके साहस और बलिदान के लिए जाना जाता है। मगर, यह योजना युवाओं के सपनों को कुचलने वाले हैं। काफी सारे युवा हैं जो कि सेना में स्थायी नौकरी का ख्वाब सजाए हुए हैं।

कांग्रेस नेता वही बोलेंगे जो गांधी परिवार सुनना चाहेगा ? प्रमोद कृष्णन और मनीष तिवारी को पड़ी फटकार

'हमरो पहाड़' सॉन्ग रिलीज कर CM धामी ने गिनाई अपनी ये कामयाबियां,

'कांग्रेस को बर्बाद कर रहे दिग्विजय..', MP में चुनाव लड़ने का ऐलान कर बोले ओवैसी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -