राहुल द्रविड़ के नाम दर्ज है वो 'अनचाहा' रिकॉर्ड, जो कोई भी बल्लेबाज़ नहीं बनाना चाहेगा

नई दिल्ली: राहुल द्रविड़ का नाम भला कोई नहीं जानता, राहुल द्रविड़ को मिस्टर डिपेंडेबल और द वाल भी कहा जाता है, क्योंकि जब वे पिच पर बल्ला लेकर उतर जाते थे, तो गेंदबाज गेंदें फेंकते- फेंकते थक जाते थे। राहुल द्रविड़ ने टीम इंडिया के लिए 16 वर्षों तक क्रिकेट खेला था, जिसमें इन्होंने कई बड़े रिकॉर्ड बनाए थे। बता दें कि आज भारतीय क्रिकेट टीम का यह दिग्गज बल्लेबाज अपना 49वां जन्मदिन मना रहा है। राहुल का का जन्म आज ही के दिन 1973 में मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था। 

तो चलिये आज इस दिग्गज के जन्मिदन के मौके पर आपको बताते है कि द्रविड़ के वो कौन से रिकॉर्ड है, जिन्हें कोई तोड़ नहीं सका है :-

टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा कैच लेने का रिकॉर्ड:- राहुल द्रविड़ की फील्डिंग अद्वितीय थी, जब भी वे स्लिप में खड़े होते थे, तो उनके हाथ से  कैच निकलना लगभग असंभव था, उनके नाम क्रिकेट में सबसे अधिक कैच लेने का रिकॉर्ड दर्ज है। द्रविड़ ने 164 टेस्ट मैचों की 301 पारियों में 210 कैच लपके थे। उनके बाद महेला जयवर्धने का नाम है, जिन्होंने 205 लिए हैं।

सबसे ज्यादा 100 रनों की साझेदारी:- राहुल द्रविड़ को क्रिकेट इतिहास का सबसे बेहतरीन और भरोसेमंद पार्टनर भी कहा जाता है। राहुल द्रविड़ ने अपने करियर में 66 बार 100 या इससे अधिक रनों की साझेदारी की हैं। इसके अलावा राहुल द्रविड़ 9 बार 200 रनों की भी पार्टनरशिप कर चुके हैं।

सबसे ज्यादा गेंदें खेलने वाले बल्लेबाज:- राहुल द्रविड़ के नाम क्रिकेट का एक और बड़ा रिकॉर्ड भी दर्ज है। राहुल द्रविड़ ने अपने कैरियर में किसी भी बल्लेबाज से अधिक 31,258 गेंदें खेली है और वो इस मामले में भी पहले नंबर पर है।

सबसे बड़ा अनचाहा रिकॉर्ड:- राहुल द्रविड़ ने अपने कैरियर बहुत से रिकॉर्ड तो बनाये ही हैं, मगर एक रिकॉर्ड ऐसा भी है जिन्हें वो बनाने नहीं चाहते थे और लेकिन वो अनचाहा रिकॉर्ड अपने आप उनके नाम पर दर्ज हो गया। दरअसल, राहुल द्रविड़ सबसे अधिक बार बोल्ड आउट होने वाले पहले बल्लेबाज़ हैं। द्रविड़ ने अपने टेस्ट क्रिकेट के कैरियर में कुल 164 मुकाबले खेले थे, जिसमें वो कुल 54 बार क्लीन बोल्ड हुए थे, ऐसा दूसरा कोई भी बल्लेबाज नहीं है, जो इतनी बार बोल्ड आउट हुआ हो।

Ind Vs SA: आज सीरीज पर कब्ज़ा करने उतरेगी टीम इंडिया, ये हो सकती है भारत की प्लेइंग XI

केपटाउन टेस्ट के लिए फिट हुए कप्तान कोहली, बोले- मुझे कुछ साबित करने की जरूरत नहीं

केपटाउन में जीत जरुरी ! जानिए इस ग्राउंड पर क्या रहा है भारतीय गेंदबाज़ों का रिपोर्ट कार्ड

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -