हकलाना या तुतलाना दूर करना चाहते है तो ये जरूर पढ़े

हकलाना या तुतलाना दूर करना चाहते है तो ये जरूर पढ़े

कई लोगो में हकलाना या तुतलाना की समस्या देखी गई है। यह रोग एक असभ्य रोग है। ये रोग ज़्यादातर बचपन से ही होता है। कई बार ऐसा होता है कि हकलाना या तुतलाना की वजह से ये लोग अपने जीवन मे आगे भी नहीं बढ़ पाते है कई समस्या इनके सामने आती है। इस रोग को ठीक करना जरूरी हो जाता है इसके लिए कोई एलोफेथिक दवाई भी नही है। इसको ठीक करना थोड़ा मुस्किल काम है मगर ना मुमकिन नहीं है लेकिन इसमे थोड़ा लंबा समय ज़रूर लग जाता है। आइये जाने कुछ उपाए जिससे इस रोग को दूर किया जा सकता है। 

1. हकलाना या तुतलाना की समस्या से परेशान है तो रोगिओ को हिमालयण बेरी जूस पीना चाहिए, इससे काफी लाभ मिलेगा। इसके लिए बेरी जूस को 1-1 चम्मच सुबह खाली पेट और रात को सोते समय लेना चाहिए। ऐसा 3 महीने तक करें।  

2. बेध्यनाथ की शंख पुष्पी भी बहुत लाभकारी होता है इस रोग के लिए। इसके लिए आप दो चम्मच शंख पुष्पी को खाना खाने के बाद लें और इसे दिन मे दोनों टाइम लेनी चाहिए।  

3. अगर ये समस्या बच्चों मे है तो इसे दूर करने के लिए ताजा हरा आंवला रोज खाना चाहिए, इससे काफी फायदा मिलेगा। बच्चों को आंवला पूरी तरह चबा के खाना चाहिए। आंवला के रोजाना सेवन से बच्चे की जीभ पतली हो जाती है और हकलाना या तुतलाना पन दूर हो जाएगा। 

4. अगर ये समस्या बढ़े मे है तो उसे दूर करने के लिए बादाम गिरी और काली मिर्च काफी फायदेमंद है। उन्हे सात बादाम गिरी और सात काली मिर्च को पीस लें और इसमे कुछ बूंद पानी डाल कर घिस लें और उसमें थोड़ी-सी मिश्री मिला कर सुबह खाली पेट इसे लें। इसे नियमित रूप से दो महीने तक सेवन करें इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा। आपका हकलाना और तुतलाना बंद हो जाएगा।