रणदीप गुलेरिया बोले- अगर कोरोना की तीसरी लहर को रोकना है तो, भीड़भाड़-अनावश्यक यात्रा से बचें

नई दिल्ली: दिल्ली AIIMS के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कोरोना वायरस को लेकर कहा है कि अभी इस बात का अनुमान नहीं लगाया जा सकता है कि आने वाले दिनों में ये वायरस किस तरह का व्यवहार करेगा, किन्तु आने वाले महीनों में उतनी तेजी ये म्यूटेट नहीं होगा. वही सिरोसर्वे के मुताबिक, आबादी में इम्यूनिटी की पर्याप्त मात्रा है.

उन्होंने कहा कि, यदि आगामी कुछ महीनों तक, जब तक कि हमारी आबादी के एक बड़े हिस्से का टीकाकरण नहीं हो जाता, हमें भीड़-भाड़, अनावश्यक यात्रा से बचना चाहिए और कोविड-उपयुक्त व्यवहार बनाए रखना चाहिए. उन्हेंने आगे कहा कि, यदि हम इन चीजों का ध्यान रखते हैं तो कोरोना की तीसरी लहर को रोक सकते हैं. वहीं बच्चों के टीकाकरण पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि, मेरा मानना है कि देश में बच्चों के लिए सितंबर तक वैक्सीन मुहैया हो जाएगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों और प्राइवेट अस्पतालों के पास 2.75 करोड़ से अधिक COVID-19 वैक्सीन डोज अभी भी मौजूद हैं. राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक सभी स्रोतों के माध्यम से 43.87 करोड़ से अधिक वैक्सीन कि खुराक दी जा चुकी हैं. सरकार की ओर से कहा गया है कि 71,40,000 वैक्सीन की खुराक अभी भी पाइपलाइन में मौजूद हैं. वेस्टेज के साथ कुल वैक्सीन की खपत 41,12,30,353 डोज है. सभी को टीका लगाने के लिए COVID-19 टीकाकरण का नया चरण 21 जून से आरंभ हुआ था.

50 प्रतिशत से अधिक एनआरआई ने यूपी सरकार को भेजे निवेश प्रस्ताव

नेहू कॉलेजों में यूजी पाठ्यक्रमों के छात्रों अब चुन सकेंगे ये खास सब्जेक्ट

कोरोना को 'फर्जी' बताने वाले दिल्ली के डॉक्टर के खिलाफ दर्ज हुआ केस, जाँच में जुटी क्राइम ब्रांच

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -