जहरीले पानी पर राजस्थान हाई कोर्ट का नोटिस

राजस्थान : पंजाब के गुरदासपुर जिले की एक शुगर मिल द्वारा व्यास नदी में लाखों टन शीरा नहर में बहा दिए जाने से दूषित हुए पानी से पश्चिमी राजस्थान की नहरों में जहर फैलने का खतरा मंडराने लगा है. इस विषय में राजस्थान हाईकोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को नोटिस जारी कर जवाब माँगा है.

उल्लेखनीय है कि राजस्थान की नहरों में पिछले दो-तीन दिनों से जहरीला पानी आने के मामले को डीके गौड़ ने जनहित याचिका के माध्यम से राजस्थान उच्च न्यायालय में उठाया .इस याचिका में कहा गया कि नहरों में जहरीला पानी आ रहा है. पीना तो दूर यह जहरीला पानी से सिंचाई तक जानलेवा है. नहरों में मछलियां दम तोड़ रही हैं. इससे महामारी का खतरा बढ़ गया है.प्रदेश के 10 जिलों में इस खतरे को देखते हुए सरकार ने एडवाइजरी जारी की है .

गौरतलब है कि पंजाब के गुरदासपुर जिले की एक शुगर मिल द्वारा व्यास नदी में लाखों टन शीरा नहर में बहा दिए जाने से पश्चिमी राजस्थान की नहरों में जहर फैलने का खतरा पैदा हो गया है .पंजाब से राजस्थान में आने वाली गंगनहर और इंदिरा गांधी नहर परियोजना की नहरों से होता हुआ यह पानी अब राजस्थान में आ चुका है .इससे लोगों में घबराहट फ़ैल गई है.

यह भी देखें

महिला कर्मचारियों को मिला शिशु सुरक्षा अवकाश

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने सुप्रीम कोर्ट में लगाई गुहार

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -