बाल दिवस पर अनोखी पहल, सीएम और नेता प्रतिपक्ष बन बच्चों ने चलाया विधानसभा सत्र

जयपुर: 14 नवंबर को बाल दिवस के अवसर पर राजस्थान विधानसभा में एक अनोखी पहल की गई। यहां बच्चों ने राजस्थान विधानसभा सत्र संचालन किया। रविवार को हुए इस बाल सत्र का उद्घाटन बतौर मुख्य अतिथि लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने किया। विधानसभा अध्यक्ष डॉ। सीपी जोशी ने स्वागत भाषण दिया। स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के तहत हुए इस खास सत्र में भारत के 200 बच्चे सीएम तथा विधायक के तौर पर पहुंचे।

वही इस के चलते लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष डॉ। सीपी जोशी, सीएम अशोक गहलोत भी उपस्थित रहे। उन्होंने बच्चों की प्रत्येक गतिविधि को देखा। सदन में बच्चों ने सीएम, नेता प्रतिपक्ष, मंत्री, विधायक तथा मुख्य सचेतक का किरदार निभाया। विधानसभा में हुए बाल सत्र के चलते बच्चों ने नेताओं की नकल की। उनकी भांति ही बर्ताव किया। सदन की कार्यवाही के चलते नेता के किरादर में बच्चे मंत्री के उत्तर से नाखुश होकर विरोध के रूप में सदन के वेल में बैठ गए।

साथ ही इस के चलते विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी ने उद्घाटन सत्र में बताया कि हमें बच्चों के मन की बात को सुनना चाहिए, इसके आधार पर नीतियां बनाने के बारे में भी सोचना होगा। उन्होंने बताया कि बच्चों से पूछा जाना चाहिए कि वो कैसी सरकार चाहते हैं। विधानसभा सत्र की कार्यवाही में बच्चों ने जाना कि विपक्ष के प्रश्न क्यों पूछते हैं। इसका मंत्री उत्तर कैसे देते हैं। प्रश्नकाल कैसे चलता है, सदन में स्थगन प्रस्ताव कौन लेकर आता है। कार्यक्रम को सीएम अशोक गहलोत एवं नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने भी संबोधित किया। 

पीएम मोदी ने PMAY-G लाभार्थियों को जारी की प्रथम किस्त

अमित शाह बोले- 'पहले सिफारिश से मिलते थे पद्म पुरस्कार, और अब...'

कंगना के बयान पर राजनीती के बाद बॉलीवुड में मचा बवाल, अब इस मशहूर सिंगर ने याद दिलाया...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -