ऐतिहासिक 22 दिन में रेप के आरोपी को सजा देगी कोर्ट

दिल्ली: देश में दिनों दिन रेप के केस बढ़ रहे है. अब हालत यह हो चुके है कि आपराधिक प्रवति के लोग मासूम बच्चियों को भी अपनी हवस का शिकार बना रहे है. लेकिन इन सब के बीच राहत देने वाली खबर यह आई है कि राजस्थान के अलवर में कोर्ट ने एक मामले में 22 दिन में फैसला सुनाने का निर्णय लिया है. 

प्रेमी संग सोने के लिए बनाई पति की कब्र

बता दें कि  राजस्थान में यह पहला मामला होगा जिसमें पोस्को एक्ट के तहत इतने कम समय में अदालत आरोपी को दोषी ठहराते हुए सजा सुनाएगी. राजस्थान के अलवर की एससी-एसटी कोर्ट ने पोस्को एक्ट के नए संसोधन लागू होने के बाद 7 माह की बच्ची का अपहरण कर दुष्कर्म के मामले में आरोपी को दोषी ठहराते हुए शनिवार तक अपना फैसला सुरक्षित रखा है.

पति हिरासत में अनिशिया की मौत अभी भी पहेली

गौरतलब है कि राजस्थान के लक्ष्मणगढ़ क्षेत्र के हरसाना गांव की 7 माह की बच्ची का अपहरण कर दुष्कर्म किया गया था.  मामले में अलवर के विशिष्ट न्यायाधीश जगेंद्र अग्रवाल ने 10 मई 2018 को दर्ज मुकदमे के मामले में रोज सुनवाई शुरू की थी. न्यायाधीश ने 22 अदालती कार्य दिवसों में 12 पेशियां लगाते हुए मंगलवार को अंतिम बहस सुनने के बाद बुधवार को फैसले की तारीख तय की थी.

यह भी पढ़े..

गुरुग्राम में नाबालिग से गैंगरेप

एयर होस्टेस की मौत में नया खुलासा

दो सगी बहनों से रिश्ता बनाने वाला गैंगस्टर पकड़ाया

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -