'यहाँ कौन-कौन पीता है...', जब राहुल गांधी का सवाल सुनकर सकपका गए कांग्रेस नेता

नई दिल्ली: कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी की ओर से आयोजित की गई प्रदेश प्रमुखों की मीटिंग में एक बार फिर ‘शराब’ और ‘खादी’ का मुद्दा उठा. वर्ष 2007 में इसे लेकर सवाल कर चुके पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को हुई बैठक में भी फिर यही मुद्दा छेड़ दिया. दरअसल, कांग्रेस की ओर से शुरू होने जा रहे सदस्यता अभियान के नियमों में शराब का सेवन नहीं करने की बात कही गई है. खबर है की मीटिंग के दौरान हुई इस चर्चा से कई दिग्गज नेता झेंप गए.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बैठक में राहुल ने सवाल पुछा कि, ‘यहां कौन पीता है?’ इस सवाल से कई सदस्य झेंप गए और बात आकर नवजोत सिंह सिद्धू पर ठहर गई. इस पर उन्होंने कहा कि, ‘मेरे राज्य में ज्यादातर लोग पीते हैं.’ हालांकि, इस दौरान उन्होंने किसी खास नाम का उल्लेख नहीं किया. बता दें की शराब से बचना और खादी पहनना कांग्रेस पार्टी का दशकों पुराना नियम है. अब इस स्थिति से निपटने के लिए सदस्यता के नियमों में संशोधन जरूरी है, मगर इसे तुरंत नहीं बदला जा सका. 

बता दें कि पार्टी में नियमों में सिर्फ वर्किंग कमेटी ही संशोधन कर सकती है. जबकि, शराब नहीं पीने का नियम महात्मा गांधी के वक़्त से ही चला आ रहा है. राहुल गांधी ने वर्ष 2017 में कांग्रेस वर्किंग कमेटी में इस नियम की प्रासंगिकता और व्यवहारिकता पर सवाल खड़े किए थे.

पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह आज पंजाब में नई पार्टी कर सकते है लॉन्च

ड्रग्स केस: हाथ धोकर समीर वानखेड़े के पीछे पड़े नवाब मलिक, अब जारी किया NCB अफसर का निकाहनामा

1 नवंबर से 31 मार्च तक देशभर में सदस्यता अभियान चलाएगी कांग्रेस

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -