बड़ा ही गुणकारी है कद्दू

अक्सर डाइट में कुछ सब्जियों के बारे में हमारी धारणा होती है कि इन्हें कितना भी लें पर इनका फायदा कुछ नहीं है. आइए जानें ऐसी सब्जियों के बारे में, जिन्हें आप अब तक बेकार समझते आ रहे थे लेकिन इनके फायदे जानकर आपके कई भ्रम दूर होंगे. कहने-सुनने में भले ही ‘कद्दू’ शब्द का प्रयोग व्यंग्यात्मक रूप में किया जाता हो, लेकिन ‘व्यंजनात्मक’ रूप में इसका प्रयोग बहुत लाभकारी होता है. 

स्वाद के लिए भी और सेहत के लिए भी. प्रकृति ने अपनी इस ‘बड़ी’ देन में कई तरह के औषधीय गुण समेटे हैं. इसका सेवन स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है. इस सब्जी में ‘पेट’ से लेकर ‘दिल’ तक की कई बीमारियों के इलाज की क्षमता है. जहां यह हृदयरोगियों के लिए बहुत लाभदायक होती है, वहीं कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी सहायक होती है.

कद्दू हमारे घर में बनाई जाने वाली आम सब्जी है लेकिन हम फिर भी इसे अपनी फेवरेट सब्जी के रूप में उल्लेख नहीं करते. यह बहुत ही स्वास्थ्य वर्धक सब्जी है जिसे हम नजरअंदाज कर देते हैं. भारत में कद्दू की कई प्रजातियां पाई जाती हैं जिन्हें उनके आकार-प्रकार और गूदे के आधार पर मुख्य रूप से सीताफल, चपन कद्दू और विलायती कद्दू के वर्गों में बांटा जाता है.

हमारे यहां विवाह जैसे मांगलिक अवसरों पर कद्दू की सब्जी और हलवा आदि बनाना-खाना शुभ माना जाता है. उपवास के दिनों में फलाहार के रूप में भी इससे बने विशेष पकवानों का सेवन किया जाता है. लोगों में यह भी गलत धारणा है कि कद्दू मीठा होता है इसलिये इसे मधुमेह रोगी नहीं खा सकते। यह बात बिल्कुल गलत है. शरीर के इन्सुलिन लेवल को बढाना कद्दू का काम होता है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -