पीएम मोदी ने शुरू की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, मायावती ने बताया अन्नदाताओं का अपमान

गोरखपुर: लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार किसानों को रिझाने के लिए आज से अन्नदाताओं के खाते में दो हजार रुपये डालने का काम रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में 'प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना' का शुभारंभ किया है. इसके तहत प्रधानमंत्री ने 2000 रुपए की पहली किश्त देश के एक करोड़ एक लाख अन्नदाताओं के बैंक खातों में डालने  की बात कही है. पीएम ने कहा है कि, "इन किसानों के खाते में 2 हजार 21 करोड़ रुपए अभी ट्रांसफर किए गए हैं, लेकिन ये तो अभी शुरुआत है."

सऊदी अरब की राजकुमारी अमेरिका में पहली महिला राजदूत बनी

साथ ही पीएम मोदी आज प्रयागराज कुंभ जाएंगे. वहां पहुंचकर पीएम मोदी संगम में आस्था की डुबकी भी लगाएंगे. कुंभ में वे 'स्वच्छ कुंभ स्वच्छ आभार' कार्यक्रम में शामिल होने के अलावा 'स्वच्छ कुंभ स्वच्छ आभार' अवॉर्ड भी प्रदान करेंगे. वहीं इसी बीच बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए ट्टीट किया है, मायावती ने लिखा है कि किसानों को प्रति माह 500 रुपये देना उनका अपमान है.

मनी लॉन्ड्रिंग मामला: भावुक हुए रॉबर्ट वाड्रा, फेसबुक पर लिखी ऐसी post

मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा है कि किसान सम्मान के नाम पर कुछ किसानों को मात्र 500 रु प्रतिमाह देना किसानों का खुला अपमान है। किसान सबसे बड़ा मेहनतकश समाज है। इनको मात्र थोड़ी सी सरकारी मदद देने की बीजेपी सरकार की सोच अनुचित व अहंकारी है। किसानों को फसल का लाभकारी मूल्य चाहिये जिसपर बीजेपी ने वादाख़िलाफी कीलोकसभा चुनाव के समय किसान सम्मान निधि को नोटबंदी व जीएसटी की तरह अपरिपक्व तौर पर लागू करके किसानों को मात्र 17 रु प्रतिदिन देना बीजेपी की छोटी सोच का द्योतक। सत्ता का लगातार दुरुपयोग करने वाली मोदी सरकार अभी भी सही लाइन पर नहीं आ रही है।

खबरें और भी:-

जैश मुख्यालय पर नियंत्रण की खबर गलत, पाक मंत्री ने किया बड़ा खुलासा

पीएम मोदी पर हमलावर हुए नायडू, कहा वादे पूरे करने के बाद ही रखें आंध्रा में कदम

कैलाश विजयवर्गीय का विवादित बयान, कहा एक बीफ खाने वाला जीत गया, इस बात का दुःख

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -