3500 वर्ष प्राचीन है 'यरुशलम' का इतिहास, सिकंदर से लेकर रोमन तक ने किया है यहाँ राज

3500 वर्ष प्राचीन है 'यरुशलम' का इतिहास, सिकंदर से लेकर रोमन तक ने किया है यहाँ राज
Share:

पूरे इतिहास में, वह भूमि जिसे अब फ़िलिस्तीन के नाम से जाना जाता है, शासकों और संस्कृतियों की समृद्ध शृंखला के साथ, साम्राज्यों, राज्यों और राज्यों का मिश्रण रही है। हालाँकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि आधुनिक समय से पहले, फ़िलिस्तीनी राज्य की अवधारणा, जैसा कि हम आज जानते हैं, अस्तित्व में नहीं थी। आइए इस क्षेत्र के जटिल इतिहास को समझने के लिए सदियों की यात्रा करें:

1. प्राचीन कनानी शहर-राज्य (13वीं शताब्दी ईसा पूर्व से पहले)

फ़िलिस्तीनी राज्य की आधुनिक अवधारणा से बहुत पहले, फ़िलिस्तीन के रूप में पहचानी जाने वाली भूमि पर विभिन्न स्वतंत्र कनानी शहर-राज्यों का निवास था। येरूशलम, जेरिको और हेब्रोन सहित ये शहर-राज्य कांस्य युग के हैं। उन्होंने उन्नत कृषि और वास्तुशिल्प प्रथाओं का प्रदर्शन करते हुए संपन्न समुदायों की स्थापना की। इस युग ने विविध सांस्कृतिक विरासत की नींव रखी जो आज इस क्षेत्र को परिभाषित करती है।

2. इज़राइल की बारह जनजातियों का धर्मतंत्र (13वीं - 12वीं शताब्दी ईसा पूर्व)

13वीं शताब्दी ईसा पूर्व के आसपास, इज़राइल की बारह जनजातियों ने इस क्षेत्र में एक धार्मिक समाज की स्थापना की। न्यायाधीशों और भविष्यवक्ताओं के नेतृत्व में, शासन के इस प्रारंभिक स्वरूप ने भूमि के इतिहास में एक महत्वपूर्ण अध्याय को चिह्नित किया। इज़राइलियों की धार्मिक मान्यताओं और प्रथाओं ने एक स्थायी विरासत छोड़कर सांस्कृतिक और राजनीतिक परिदृश्य को आकार देना शुरू कर दिया।

3. इज़राइल साम्राज्य (11वीं - 8वीं शताब्दी ईसा पूर्व)

11वीं से 8वीं शताब्दी ईसा पूर्व के दौरान इज़राइल राज्य, उसके बाद यहूदा राज्य, प्रमुख संस्थाओं के रूप में उभरा। किंग डेविड और किंग सोलोमन जैसी उल्लेखनीय हस्तियों के शासनकाल ने क्षेत्र की राजनीतिक गतिशीलता को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उनकी विरासतों ने क्षेत्र के ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व में योगदान दिया।

4. बेबीलोन साम्राज्य (छठी शताब्दी ईसा पूर्व)

छठी शताब्दी ईसा पूर्व में, नबूकदनेस्सर द्वितीय के शासन के तहत बेबीलोनियाई साम्राज्य ने इस क्षेत्र पर विजय प्राप्त की। इस विजय के कारण बेबीलोन की कैद हुई, जो यहूदी लोगों के इतिहास में एक महत्वपूर्ण क्षण था। इसी समय के दौरान यरूशलेम में पहला मंदिर नष्ट कर दिया गया था, यह घटना यहूदी इतिहास और आस्था में स्मरणीय है।

5. फ़ारसी साम्राज्य (छठी-चौथी शताब्दी ईसा पूर्व)

बेबीलोन साम्राज्य के पतन के बाद, साइरस महान के नेतृत्व में फ़ारसी साम्राज्य ने यहूदी लोगों को अपनी मातृभूमि में लौटने की अनुमति दी। इस अवधि ने यरूशलेम और दूसरे मंदिर की बहाली को चिह्नित किया, जो यहूदी इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाएँ थीं।

6. सिकंदर महान का साम्राज्य (चौथी शताब्दी ईसा पूर्व)

चौथी शताब्दी ईसा पूर्व में सिकंदर महान की विजय ने इस क्षेत्र में हेलेनिस्टिक प्रभाव डाला। इस युग में ग्रीक और स्थानीय संस्कृतियों का मिश्रण देखा गया, जिसने भूमि की कला, वास्तुकला और भाषा पर स्थायी प्रभाव छोड़ा।

7. सेल्यूसिड साम्राज्य (चौथी-दूसरी शताब्दी ईसा पूर्व)

इस अवधि के दौरान सेल्यूसिड्स ने हेलेनिस्टिक संस्कृति को बनाए रखते हुए इस क्षेत्र पर शासन किया। सेल्यूसिड्स की उपस्थिति ने भूमि की सांस्कृतिक विविधता और राजनीतिक परिदृश्य को और आकार दिया।

8. हस्मोनियन राज्य (दूसरी - पहली शताब्दी ईसा पूर्व)

हस्मोनियन राजवंश ने भूमि पर यहूदी स्व-शासन और स्वतंत्रता का युग लाया। हसमोनियन राज्य की स्थापना ने यहूदी संप्रभुता और राज्य के इतिहास में एक महत्वपूर्ण अध्याय को चिह्नित किया।

9. रोमन साम्राज्य (पहली शताब्दी ईसा पूर्व - चौथी शताब्दी ईस्वी)

इस क्षेत्र पर रोमन साम्राज्य के नियंत्रण, जिसमें यीशु का समय भी शामिल था, का ईसाई धर्म के विकास पर गहरा प्रभाव पड़ा। दुनिया बदलने वाले इस धर्म का जन्म और प्रसार इसी युग में शुरू हुआ।

10. बीजान्टिन साम्राज्य (चौथी - सातवीं शताब्दी ई.पू.)

रोमन शासन के बाद, बीजान्टिन ने इस क्षेत्र में ईसाई धर्म को प्रमुख धर्म के रूप में पेश किया। बीजान्टिन साम्राज्य के प्रभाव ने क्षेत्र की ईसाई पहचान को और मजबूत किया।

11. सासैनियन साम्राज्य (7वीं शताब्दी ई.पू.)

7वीं शताब्दी ई.पू. के दौरान इस क्षेत्र में सासैनियन साम्राज्य का कुछ समय के लिए प्रभाव रहा, जिससे इस क्षेत्र के जटिल इतिहास में एक और परत जुड़ गई।

12. बीजान्टिन साम्राज्य (7वीं शताब्दी ई.पू.)

सासैनियन साम्राज्य के बाद, बीजान्टिन ने एक बार फिर से नियंत्रण हासिल कर लिया, जिससे इस क्षेत्र में ईसाई धर्म की प्रबलता की पुष्टि हुई।

13. उमय्यद और फातिमिद साम्राज्य (7वीं - 12वीं शताब्दी ई.पू.)

उमय्यद और फातिमिद साम्राज्यों के इस्लामी शासन ने इस क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण युग को चिह्नित किया। उमय्यदों के प्रभाव और बाद में फातिमियों की उपस्थिति ने इस्लामी शासन और सांस्कृतिक परंपराओं की शुरुआत की।

14. जेरूसलम का फ्रेंकिश और ईसाई साम्राज्य (12वीं शताब्दी ई.पू.)

धर्मयुद्ध के दौरान, 12वीं शताब्दी में यरूशलेम साम्राज्य की स्थापना की गई थी। क्रुसेडर्स के शासन ने क्षेत्र के इतिहास में एक अनोखा अध्याय पेश किया, जो संस्कृतियों और धर्मों के टकराव से चिह्नित था।

15. अरब-कुर्द अय्यूबिद साम्राज्य (12वीं - 13वीं शताब्दी ई.पू.)

अय्यूबिद राजवंश क्रुसेडर्स के बाद सफल हुआ और इस क्षेत्र को अरब-कुर्द शासन के अधीन लाया। इस युग में इस्लामी संस्कृति और शक्ति का पुनरुत्थान देखा गया।

16. मिस्र के मामलुक (13वीं - 16वीं शताब्दी ई.पू.)

मामलुकों ने मिस्र राज्य के हिस्से के रूप में इस क्षेत्र पर शासन किया। उनके शासन से क्षेत्र में स्थिरता और निरंतरता आई।

17. ओटोमन साम्राज्य (16वीं - 20वीं शताब्दी ई.पू.)

ओटोमन्स ने प्रथम विश्व युद्ध के अंत तक सदियों तक इस क्षेत्र को नियंत्रित किया, जिससे भूमि की संस्कृति और प्रशासन पर एक स्थायी छाप पड़ी।

18. ब्रिटिश शासनादेश (20वीं शताब्दी ई.पू.)

प्रथम विश्व युद्ध के बाद, ब्रिटिश शासनादेश एक संक्रमणकालीन अवधि के रूप में उभरा, जिसने इस क्षेत्र में आधुनिक विकास के लिए मंच तैयार किया।

19. आधुनिक युग: फ़िलिस्तीनी राज्य

यह समझना आवश्यक है कि फ़िलिस्तीनी राज्य की आधुनिक अवधारणा 20वीं सदी में उभरी और यह क्षेत्र कई वर्षों से राजनीतिक और क्षेत्रीय विवादों का केंद्र बिंदु रहा है। यह ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य क्षेत्र की जटिलताओं और इसकी निरंतर विकसित होती पहचान पर प्रकाश डालता है।  

मस्जिद अल अंसार में था 'आतंकियों' का अड्डा, इजराइल ने एयर स्ट्राइक में किया तबाह

'यहूदियों को मार डालो..', इजराइल-हमास युद्ध के बीच फिलिस्तीन का धार्मिक दस्तावेज हुआ वायरल !

आतंकी संगठन हमास के चंगुल से छूटने के बाद क्या बोली नताली सानंदजी ?

Share:
रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -