चोर - चोर बने मौसेरे भाई

Apr 20 2015 02:19 PM
चोर - चोर बने मौसेरे भाई
पाकिस्तान : चीन ने एक बार फिर भारत विरोधी होने का परिचय दिया। इस बार चीन के राष्ट्रपति ने पाकिस्तान से उनके बढ़ते रिश्तों पर कुछ अधिक एतबार जता दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जाना अपने भाई के घर जाने जैसा है। जानकारों का मानना है कि आतंकवाद को समर्थन देने वाले पाकिस्तान को अपना भाई बताकर उन्होंने कई तरह के संकेत दिए हैं। मिली जानकारी के अनुसार चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पाकिस्तान से स्वार्थ साधने का प्रयास करते हुए कहा कि मैं महसूस करता हूं कि मैं अपने खुद के भाई के घर जा रहा हूं। 

इस दौरान उन्होंने कहा कि अपनी इस यात्रा के दौरान वे द्विपक्षीय सहयोग की रूपरेखा तैयार करने के साथ चीन, पाकिस्तान, आर्थिक काॅरिडोर में ठोस प्रगति करने और अन्य क्षेत्रों में सहयोग करने को लेकर पाकिस्तानी नेताओं से बात करना चाहते हैं। चीन राष्ट्रपति जिनपिंग ने कहा कि 46 अरब डाॅलर के आर्थिक काॅरिडोर का मुद्दा बेहद अहम होगा। चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग द्वारा विदेश दौरे की शुरूआत पाकिस्तान से की गई है तो दूसरी ओर वे फिर से इंडोनेशिया के बानदुंग सम्मेलन में शिरकत करेंगे। 

यही नहीं वे पाकिस्तान यात्रा के तहत पाकिस्तानी राष्ट्रपति ममनून हुसैन, प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से मिलेंगे। यही नहीं उन्होंने कहा कि चीन और पाकिस्तान दोनों देशों के लोगों के समपनों को पूरा करने के लिए विकास की रणनीति को अपनाने की जरूरत है। उल्लेखनीय है कि चीन कई बार अरूणाचल प्रदेश समेत भारत से सटी अपनी सीमा को बढ़ाने और उस पर आधिपत्य जमाने की असफल कोशिशें कर चुका है। बताया जा रहा है कि अपने सामरिक महत्व के लिए वह पाकिस्तान की सहायता ले सकता है।