विपक्षियों ने दिया स्पीकर के चैंबर के बाहर धरना, फिर सदन से किया वाकआउट

विपक्षियों ने दिया स्पीकर के चैंबर के बाहर धरना, फिर सदन से किया वाकआउट

शिमला: मंगलवार को हिमाचल प्रदेश विधानसभा मानसून सत्र के सेवंथ दिन सदन की कार्यवाही आरम्भ होने से पूर्व विपक्षी स्पीकर विपिन सिंह परमार के चैंबर के बाहर धरने पर बैठ गया। फिर बेनामी प्रॉपर्टी के मामले पर कार्य रोककर नियम 67 के तहत स्थगन प्रस्ताव पर फिर से बातचीत मांगने लगा। सदन में स्पीकर ने गवर्मेंट की टिप्पणी आने के पश्चात् ही इस वार्ता का निर्णय ले पाने की बात कही तो विपक्ष ने सदन से वाकआउट कर दिया। 

वही कांग्रेस MLA दल के इस रवैये की सीएम जयराम ठाकुर तथा संसदीय कार्य मंत्री ने निंदा की। उन्होंने कहा कि न्यूज़ बनवाने के लिए ही विपक्ष ऐसा कर रहा है। तत्पश्चात, विपक्ष की गैर हाजिरी में ही प्रश्नकाल आरम्भ किया गया। सेवंथ डे की कार्यवाही के आरम्भ होने से पूर्व ही विपक्ष के मेंबर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री के नेतृत्व में स्पीकर विपिन सिंह परमार के चेंबर के बाहर धरने पर बैठ गए। 

साथ ही कांग्रेस MLA ने आरोप लगाया कि गवर्मेंट विपक्ष की आवाज को दबा रही है। मीडिया पर भी खबरें नहीं छपवाने को दबाव बनाया जा रहा है। सदन के अंदर भी विपक्ष की तरफ से दी गई चर्चाएं नहीं कार्यवाही की जा रही हैं। इसके पश्चात् स्पीकर ने विपक्ष के मेंबर्स को अंदर बुलाया तथा उनसे बात की। बाहर आने पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने मीडिया से वार्ता में कहा कि सदन में विपक्ष की आवाज को दबाया जा रहा है। अंदर हुई चर्चा को कार्यवाही से हटाया जा रहा है। इसे पब्लिकली नहीं करने को मीडिया पर भी दबाव बनाया जा रहा है। वही इस पर जंग छिड़ गई है।

इजराइल और अमेरिका में टूटा कोरोना का कहर, हर दिन हो रहे इतने परिक्षण

पाकिस्तान में नहीं थम रहे बलात्कार, इमरान बोले- दोषियों को सरेआम दी जाए फांसी

पीएम मोदी बोले- घोटालों की भेंट चढ़ गए बिहार के विकास कार्य, लोगों ने दशकों तक सहा दर्द