पाकिस्तान में नहीं थम रहे बलात्कार, इमरान बोले- दोषियों को सरेआम दी जाए फांसी

पाकिस्तान में नहीं थम रहे बलात्कार, इमरान बोले- दोषियों को सरेआम दी जाए फांसी

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने कहा है कि दुष्कर्म के दोषियों को रासायनिक बंध्याकरण कर सजा दी जानी चाहिए। दरअसल, हाल में पाकिस्तान में एक विदेश महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद इमरान खान की सरकार चौतरफा आलोचनाओं का सामना कर रही है। पाकिस्तान में भी लोग सड़कों पर आ गए हैं और महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध पर एक्शन लिए जाने की मांग कर रहे हैं। इन प्रदर्शनों में सैकड़ों महिलाएं भी शामिल हैं।

विदेशी महिला के साथ दुष्कर्म की घटना लाहौर में हुई थी। लोगों का आक्रोश एक पुलिस अधिकारी के बयान के बाद से भी और बढ़ा हुआ है। इस अधिकारी ने पीड़िता पर ही सवाल उठाते हुए पूछा था कि वो अकेले बगैर किसी पुरुष साथी के रात में सड़कों पर गाड़ी चलाने के लिए क्यों निकल गई थी। इमरान खान से जब एक टीवी साक्षात्कार में इन घटनाओं के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि दुष्कर्म करने वालों को सरेआम फांसी दी जानी चाहिए। हालांकि, साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि इससे कुछ साझेदार देशों जैसे यूरोपियन यूनियन वगैरह के साथ व्यापारिक समझौतों पर असर पड़ सकता है, जो ऐसे मामलों में मृत्युदंड दिए जाने का विरोध करते हैं।

पाकिस्तानी न्यूज चैनल से बात करते हुए उन्होंने कहा कि, 'मुझे लगता है कि ऐसे अपराधियों का रासायनिक बंध्याकरण कर दिया जाना चाहिए। मैंने पढ़ा है कि ऐसा कई देशों में हो रहा है।' उन्होंने कहा कि, 'जिस तरह हत्या के जुर्म के अलग-अलग ग्रेड किए जाते हैं। इसे भी ग्रेड की तरह अलग-अलग करना चाहिए और पहले ग्रेड के दुष्कर्म के अपराध के लिए रासायनिक बंध्याकरण होना चाहिए।'

इंडियन रेलवे ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, कोरोना काल में बना डाले 150 रेल इंजन

दुनियाभर में कोरोना का आतंक, बढ़ रहा है कोने कोने में मातम

कोरोना वायरस के बाद अब इस वायरस से है स्पेन को खतरा