कोरोना : इस शहर में रहेगा भारत का सबसे सख्त लॉकडाउन, नहीं मिलेगा कोई सामान

दुनिया में कोरोना संक्रमण फैलता जा रहा है. जिसने भारत में भी तेजी से लोगोंं को अपना शिकार बनाया है. वायरस को प्रभाव को देखते हुए पीएम मोदी ने देश में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित ​किया है. इसके बावजूद देश के अधिकांश इलाकों में लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं. नतीजा संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. संक्रमितों की संख्या अब 20 से ज्यादा हो चुकी है. हालांकि, केंद्र सरकार राज्यों के साथ मिलकर लगातार इस पर लगाम कसने की कोशिशों में जुटी हैं. मगर हर प्रयास नकाफी साबित हो रहा है. एकाएक कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा मंडराने लगा है. शायद, यही वजह है कि आज मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी कहलाने वाले इंदौर में देश का सबसे सख्त लॉकडाउन रहेगा. वह इसलिए, क्योंकि अगले दिन यहां दूध-सब्जी समेत कोई भी जरूरी सामान नहीं मिलेगा. यह शहर पूरी तरह से थम जाएगा. 

अब बंद कर्यालय से रिटायर हो जाएंगे कई शिक्षक

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि देशभर में लॉकडाउन लागू हुए पांच दिन बीत चुके हैं. मगर इस दौरान भी वहां दूध-सब्जी समेत जरूरी चीजों के लिए प्रशासन ने पूरी तरह से छूट दे रखी है. पेट्रोल पंप, एटीएम जैसी सेवाएं जारी रखी हैं. इतना ही लोगों को बाहर निकलने और खरीदारी के लिए भी तय समय में छूट दी जा रही है. मगर मिनी मुंबई कहलाने वाला इंदौर अगले तीन दिन पूरी तरह से बंद हो जाएगा.

रेवाड़ी में फसे सैकड़ों लोगों के लिए आज जारी की जा सकती है बस सुविधा

वायरस की परवाह न करते हुए लॉकडाउन के बाद भी इंदौर में बड़ी संख्या में लोग बाहर से आ रहे थे. कई सामाजिक संस्थाएं भोजन और अन्य सामग्री बांटने का काम कर रही थीं. नतीजतन लॉकडाउन लागू होने के बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं हो पा रहा था. नतीजतन बीते दो दिन में इंदौर में संक्रमितों की संख्या अचानक बढ़ गई. इंदौर पर कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा मंडरा रहा है. प्रशासन ने चंदन नगर, रानीपुरा जैसे इलाकों को चिह्नित किया है. वहां आवाजाही पर रोक लगाई है.

दिल्ली स्थित शाहीन बाग़ में भड़की भीषण आग, आस-पास है बड़ा रिहायशी इलाका

Corona Live: दुनियाभर में 36 हज़ार लोगों की मौत, भारत में 27 ने तोड़ा दम

Coronavirus: देश में बढ़ रही कोरोना की मार, अब तक 27 से ज्यादा मौतें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -