बॉम्बे HC से नवाब मलिक को बड़ा झटका, समीर वानखेड़े के पक्ष में आया फैसला

मुंबई: बॉम्बे उच्च न्यायालय से समीर वानखेड़े के पिता को बड़ी राहत प्राप्त हो गई है। बॉम्बे उच्च न्यायालय ने उनकी याचिका पर नवाब मलिक एवं उनके परिवार को निर्देश दिया है कि अब वे वानखेड़े परिवार के खिलाफ कुछ भी पब्लिश नहीं कर पाएंगे। साफ़ बोला गया है कि सीधे रूप से या फिर इशारों में भी परिवार के विरुद्ध बयानबाजी नहीं की जाएगी।

बता दें कि समीर वानखेड़े के पिता ने बॉम्बे उच्च न्यायालय में याचिका डाल अपील की थी कि नवाब मलिक द्वारा उन पर तथा उनके परिवार के विरुद्ध बेतुके बयानबाजी नहीं की जाए। उन्होंने इस पर प्रतिबंध लगाने की अपील की थी। अब उसी मामले में अदालत की ओर से नवाब मलिक को झटका दिया गया है। अब वे समीर वानखेड़े एवं उनके परिवार के विरुद्ध किसी भी प्रकार की बयानबाजी नहीं कर पाएंगे।

वही सुनवाई के चलते नवाब मलिक और वानखेड़े के अधिवक्ता के बीच तीखी बहस देखने को मिली थी। इस बात पर भी बहस थी कि नवाब मलिक निरंतर समीर वानखेड़े की बहन को लेडी डॉन बोलकर संबोधित कर रहे थे। इस पर मलिक के अधिवक्ता ने कहा था कि फ्लेचर पटेल नाम के व्यक्ति ने ऐसा बोला था तथा उनके क्लाइंट ने केवल उसे साझा किया। मगर अदालत ने इस दलील को खारिज करते हुए साफ़ कहा कि जब तक मामले की सुनवाई जारी है, ऐसी बयानबाजी एवं इल्जाम नहीं लगाए जाएंगे। न्यायाधीश कथावाला ने सीधे नवाब मलिक के अधिवक्ता से पूछा भी यदि उनके क्लाइंट ऐसी बयानबाजी करना बंद करेंगे। इस पर जवाब दिया गया कि 9 दिसंबर तक नवाब मलिक अब वानखेड़े तथा उनके परिवार के खिलाफ कोई पोस्ट साझा नहीं करेंगे। 

Ind Vs NZ: द्रविड़ के लौटते ही पुराना जमाना भी लौटा, गावस्कर ने अय्यर को दी टेस्ट कैप, Video

फिल्म रिलीज से पहले अहान-तारा ने की गंगा आरती, घाट पर उमड़ी लोगों की भारी भीड़

'सत्यमेव जयते 2' रिलीज होते ही ट्विटर पर लगी यूजर्स के रिएक्शन्स की बाढ़

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -