अब नवरात्रि में भी लीजिए पिज्जा का आनंद

अब नवरात्रि में भी लीजिए पिज्जा का आनंद
Share:

हिन्दू धर्म में नवरात्रि पर्व का अपना एक अलग ही महत्व है और नवरात्र में मां दुर्गा के उपासक नौ दिनों तक पूजा अर्चना कर मां को प्रसन्न करते हैं। हम आपको यहां बता दें कि नवरात्रि 10 अक्टूबर से शुरू होंगी और इस बार आप अपने व्रतों में पिज्जा खाने का लुत्फ भी ले सकते हैं। 

नवरात्रि : गुवाहाटी में कुछ ऐसा बन रहा है माँ दुर्गा का पंडाल

हिन्दू पर्व नवरात्रि में व्रत के दौरान लोग अपने खाने में फलाहारी भोजन को शामिल करते हैं जैसे— साबूदाना की खिचड़ी, आलू की सब्जी, मूंगफली, आलू की टिक्की और नारियल को मुख्य रूप से शामिल करते हैं। इसके अलावा लोग नवरात्रि में अन्य कुछ भी वस्तुओं का सेवन नहीं करते हैं। 

Navratri 2018 : इस बार खाए कुट्टू के आटे से बना डोसा और व्रत में भूख से पाए निजाद

यहां हम आपको पिज्जा बनाने की विधि के बारे में बता रहे हैं जिससे आप पिज्जा का आनंद ले सकते हैं।

सामग्री

पिज्जा बेस के लिए कुट्टू का आटा,

गर्म पानी,

शकरकंदी आटा,

मूंगफली का तेल

स्वाद के अनुसार सेंधा नमक

पिज्जा सॉस के लिए मूंगफली का तेल

 टमाटर,

हरिमिर्च,

जीरा पाउडर,

पनीर और अदरक

विधि

पिज्जा बनाने के लिए सबसे पहले सॉस तैयार करें और इसके लिए सबसे पहले तेल गर्म करें और तेल के गर्म होने पर जीरा डालें फिर टमाटर,तुलसी, सेंधा नमक, नींबू का रस, बारीक कटी हरी मिर्च डालकर अच्छे से मिलाते हुए कुछ देर के लिए तलें. अब इसमें पानी मिलाकर 5 मिनट के लिए उबालें। पिज्जा बनाने से पहले माइक्रोवेब को तैयार करें और इसके बाद कुट्टू के आटे से बने बेस पर सॉस को फैलाएं और उसके बाद पनीर के छोटे कटे स्लाईस रखें.  पिज्जा को 10 से 15 मिनट के लिए माइक्रोवेब में रखें। इसके बाद तैयार हुए पिज्जा को माइक्रोवेब से बाहर निकालें और छोटे-छोटे पीस में काटकर सर्व करें।

चटपटे व्यंजन

नवरात्रि 2018: जानिए उपास के दौरान किन चीजों का सेवन होता है सबसे बेहतर

नवरात्रि पर व्रत में खा सकते हैं आलू के नमकपारे

जानिए क्या है मटर कुलचा बनाने की रेसिपी
  

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -