ड्रोन और कंप्यूटरों के निर्यात के लिए लेनी होगी आधिकारिक मंजूरी

बीजिंग : चीन की प्रौद्योगिकी कंपनियों के लिए 15 अगस्त से शक्तिशाली ड्रोन और कंप्यूटरों के निर्यात के लिए आधिकारिक मंजूरी लेनी होगी। सरकार को डर है कि इस तरह के उपकरणों के निर्यात से देश की सुरक्षा को खतरा हो सकता है। वाणिज्य मंत्रालय (एमओसी) और सीमा शुल्क विभाग के सामान्य प्रशासन द्वारा शुक्रवार को घोषित नए नियमों के अनुसार, एमओसी की वेबसाइट पर चिन्हित खास तरह के ड्रोन और कंप्यूटरों का निर्माण करने वाली कंपनियों को वाणिज्य प्रशासन में पंजीकरण कराना होगा, और उपकरणों का निर्यात करने से पहले लाइसेंस लेना होगा। इन उपकरणों में एक घंटे से अधिक समय तक उड़ने की क्षमता वाले ड्रोन शामिल हैं।

घोषणा के अनुसार, कंपनियों को निर्यात अनुबंधों की प्रतिलिपि और उत्पादों की तकनीकी खासियतों वाले दस्तावेज उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा और साथ ही उपकरण इस्तेमाल करने वाले के बारे में भी जानकारी देनी होगी। एमओसी ने कहा है कि कंपनियों को 45 दिनों के भीतर बताया जाएगा कि उनका आवेदन मंजूर हुआ या नहीं। वाणिज्य विभाग इन सामानों के निर्यात का निरीक्षण करेगा और नियमों का उल्लंघन करने वालों को दंडित किया जाएगा।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -