मुंबई: साकीनाका दुष्कर्म मामले में हुआ SIT का गठन, ACP ज्योत्सना रासम करेंगी नेतृत्व

मुंबई: मुंबई के साकीनाका दुष्कर्म मामले में पुलिस आयुक्त हेमंत नगराले ने शनिवार को प्रेस वार्ता की. इस दौरान उन्होंने बताया कि साकीनाका दुष्कर्म में जांच के लिए स्पेशल टीम का गठन किया गया है. उन्होंने बताया कि इस टीम की अगुवाई महिला पुलिस अफसर करेगी. यही नहीं उन्होंने बताया कि CM उद्धव ठाकरे ने साकीनाका मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने का आदेश दिया है. 

हेमंत नगराले ने बताया कि, ACP ज्योत्सना रासम की अगुवाई में जांच के लिए SIT का गठन किया गया है. उन्होंने बताया कि शुरुआत में लग रहा था कि इस मामले में एक से ज्यादा आरोपी हैं. मगर अभी तक की छानबीन में यह सामने आया है कि आरोपी ने अकेले ही वारदात को अंजाम दिया है. पुलिस आयुक्त हेमंत नगराले ने बताया कि, पुलिस को शुक्रवार तड़के महिला के साथ दुष्कर्म की जाानकारी मिली थी. पुलिस बगैर देरी किए कार्डबोर्ड कंपनी पहुंची. यहां पुलिस को एक ट्रक में नाजुक हालत में महिला मिली. इसके बाद पुलिस ने एंबुलेंस का प्रतीक्षा किए बगैर टैंपो से ही महिला को अस्पताल ले गई. 

10 सितंबर यानी शुक्रवार तड़के मुंबई के साकी नाका इलाके से बलात्कार का केस सामने आया था. यहां खैरानी रोड पर एक 30 वर्षीय महिला के साथ पहले दुष्कर्म किया गया और इसके बाद आरोपी ने उसके निजी अंग में रॉड डाल दी. महिला को बहुत नाजुक हालत में अस्पताल पहुंचाया गया था. महिला की स्थिति बहुत गंभीर थी. वह वेंटिलेटर पर थी. शनिवार को उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई. पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है. 

काबुल के लिए विमान सेवा शुरू करेगा पाकिस्तान, बना फ्लाइट शुरू करने वाला पहला देश

सिर में गोली मारकर की गई थी त्रिलोचन सिंह की हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

भारतीय युवा कांग्रेस 17 सितंबर को मनाएगा 'राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -