सिर में गोली मारकर की गई थी त्रिलोचन सिंह की हत्या, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा

नई दिल्ली: नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) के दिग्गज नेता और जम्मू कश्मीर विधान परिषद के पूर्व मेंबर त्रिलोचन सिंह वजीर के क़त्ल के मामले में नया खुलासा हुआ है. सूत्रों के अनुसार, नेशनल कांफ्रेंस के नेता त्रिलोचन सिंह का क़त्ल गोली मारकर की गई थी. पोस्टमार्टम की शुरुआती रिपोर्ट में सिर में गोली लगने की बात पता चली है. 

बताया जा रहा है कि त्रिलोचन को दो सितंबर को कनाडा जाना था, जहां उनका परिवार रहता था. इसके लिए वे राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे थे. वे यहां जम्मू निवासी हरप्रीत के घर ठहरे थे. किन्तु जब बहुत दिनों तक कुछ पता नहीं चला, तो परिवार ने पहले जम्मू पुलिस को सूचित किया और इसी तरह दिल्ली पुलिस तक बात पहुंची. अभी तक की जांच के बाद पुलिस को लग रहा है कि त्रिलोचन सिंह का क़त्ल 2 सितंबर को किया गया था. इसके बाद हरप्रीत 7 सितंबर को उसी फ्लैट में रहता रहा. इससे पहले खुलासा हुआ था कि त्रिलोचन सिंह वजीर के क़त्ल को अंजाम देने के बाद आरोपी हरप्रीत सिंह ने अपनी एक महिला मित्र को घटनास्थल यानी बसई दारापुर के फ्लैट पर बुलाया था.

इससे पहले खुलासा हुआ था कि आरोपी हरप्रीत सिंह खालसा ने हत्या के बाद त्रिलोचन सिंह के एक करीबी को फोन किया था और उसे बताया था कि 'मैंने और हरमीत ने मिलकर त्रिलोचन सिंह को मार डाला है, आकर लाश उठा लो.' फोन पर हत्या का जुर्म कबूल करने के बाद आरोपी ने नई दिल्ली इलाके में अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया था.  

भारतीय युवा कांग्रेस 17 सितंबर को मनाएगा 'राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस'

केरल में कोरोना बनता जा रहा और भी घातक, हर दिन बड़े पैमाने पर सामने आ रहे है संक्रमण के मामले

पैन-आधार लिंक करवाने की अंतिम तारीख नजदीक, जानिए पूरी प्रक्रिया

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -