मप्र सरकार बनाएगी फसल बीमा योजना : शिवराज

Apr 12 2015 03:32 AM
मप्र सरकार बनाएगी फसल बीमा योजना : शिवराज
मध्य प्रदेश / भोपाल : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि वे राज्य के किसानों के लिए अलग से फसल बीमा योजना बनाना चाहते हैं, इसके लिए केंद्र सरकार से चर्चा करेंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रदेश इकाई की कार्यसमिति की बैठक में चौहान ने शुक्रवार को कहा कि वे चाहते हैं कि किसानों के लिए ऐसी फसल बीमा योजना हो, जिसका किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभ मिले। इस योजना में फसल की औसत से कम पैदावार होने पर भी बीमा योजना का किसानों को लाभ मिले। अगर औसत से कम पैदावार होती है तो पैदावार और औसत के अंतर की भरपाई बीमा के जरिए की जाए, इसके अलावा प्राकृतिक आपदा आने पर किसान को औसत पैदावार के बराबर राशि बीमा योजना से मिले। चौहान ने कहा की महू में बाबा अंबेडकर संस्‍थान को विश्‍वविद्यालय का दर्जा दिया जाएगा। नर्मदा परिक्रमा के लिए नमामि देवी नर्मदे योजना बनाई जा रही है। 

आयकर देने वालों को छोड़कर सभी नमामि देवी नर्मदे योजना का लाभ उठा सकेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि दीनदयाल जी की जीवन पर अध्‍ययन करने वालों के लिए दीनदयाल इंस्‍टीट्यूट बनाया जाएगा। उन्‍होंने कहा सरकार इस बार गरीब कल्‍याण वर्ष मना रही है, जिसमें गरीबों को हर संभव मदद देकर आगे बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि मध्‍यप्रदेश में कृषि को लाभ का धंधा बनाने के लिए तीन समितियां बनाई जाएंगी। इसके साथ ही बोनस के बराबर किसानों को पैसा देने के लिए सरकार ने फंड बना लिया है और इसे बांटने के लिए फार्मूला बनाया जा रहा है। केंद्र की फसल बीमा योजना के तहत ही अब राज्‍य में भी फसल बीमा योजना बनाई जाएगी। सीएम ने कहा कि किसानों को पहले खेतों में लगे पेड़ों को काटने के लिए अनुमति लेनी पड़ती थी, लेकिन अब खेतों में लगे 53 प्रजाति के पेड़ों को काटने के लिए अनुमति नहीं लेनी पड़ेगी।