मदर्स डे पर इन महिला खिलाड़ियों ने अपनी माँ के लिए बोली दिल जीत लेने वाली बात

कोरोना के प्रकोप ने मदर्स डे को और भी अधिक ममतामयी बना दिया है. ओलंपिक की तैयारियों के चलते ट्रेनिंग सेंटरों या कैंप में फंसे खिलाड़ियों की खासतौर पर महिला खिलाड़ियों की चिंता माताओं को ज्यादा ही सता रही है. वहीं ज्यादातर खिलाड़ियों को वर्षों बाद लॉकडाउन के चलते मदर्स डे पर घर में मां के आशीर्वाद का मौका मिला है. वैसे मां से एक या दो दिन में खिलाड़ियों की बात होती है, पर इन दिनों मां का दिन में तीन कॉल आना आम बात है. सभी की जुबां पर यही बात होती है, बेटी कमरे में ही रहना, बाहर नहीं निकलना. शूटर मनु भाकर के मुताबिक मां इस बार कुछ ज्यादा ही ख्याल रख रही हैं. लंबे समय बाद माता-पिता के साथ इतना लंबा वक्त गुजारने का मौका मिला है.
 
वेटलिफ्टर मीरा को इस बार महसूस हो रही मां की कमी: वेटलिफ्टर मीराबाई चानू लंबे समय से पटियाला में ओलंपिक कैंप में हैं. मीरा कहती हैं कि वह लंबे समय से मदर्स डे पर मां के साथ नहीं रही हैं, लेकिन इस बार मां की कमी अधिक महसूस हो रही है. मीरा कहती हैं कि मां दिन में तीन बार फोन कर रही हैं. बार-बार यही कहती हैं कि बाहर मत जाना, अपना ख्याल रखना. पूछती हैं कहीं गई तो नहीं थी.

मां ने हर विपरीत स्थिति का सामना किया: मैरीकॉम दिग्गज मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम ने कहा, मेरी मां हर बुरे और अच्छे समय में मेरा सहारा बनीं. चाहे जिस तरह की परििस्थतियां रहीं हों उन्होंने मेरा साथ दिया. मेरे को खड़ा करने और मजबूत बनाने के लिए मां ने हर विपरीत स्थिति का डटकर सामना किया लेकिन मुझे इसका अहसास नहीं होने दिया. आप दुनिया की सर्वश्रेष्ठ मां हो.

मनिका से रोज बात करना नहीं भूलती मां: टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा लॉकडाउन से पहले से पुणे में तैयारियां कर रही हैं. मनिका की मां सुषमा दिल्ली में हैं. वह बताती हैं कि वह ऐसे समय में मनिका से रोज बात करना नहीं भूलती हैं. ऐसे समय में बेटी से बात करना ही बड़ा सहारा है.

इन खिलाड़ियों ने मदर्स डे पर अपनी माँ को दिया धन्यवाद

इस खिलाड़ी की पत्नी का डांस वीडियो हुआ वायरल

स्टीव स्मिथ ने पहले लगाई 21.10 किमी की दौड़, फिर बताई यह खास वजह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -