मोदी सरकार की आयुष्मान भारत योजना की राह में नई बाधा...

Aug 31 2018 02:30 PM
मोदी सरकार की आयुष्मान भारत योजना की राह में नई बाधा...

नई दिल्ली। मोदी सरकार की आयुष्मान भारत योजना से बेहतर स्वस्थ सेवा की उम्मीदे लगाए बैठे करोड़ो भारतीयों को इस मामले में एक निराशाजनक खबर हाथ लग सकती है। देश के करोड़ो गरीबों को मुफ्त में मेडिकल सुविधा देने वाली आयुष्मान भारत योजना की राह में एक नई बाधा आ गई है। 

नोटबंदी को लेकर BJP ने राहुल तो लताड़ा, जिनके पुरखों ने देश को लूटा वो ही उठा रहे नोटेबंदी पर सवाल

दरअसल इस योजना को लेकर प्राइवेट अस्पतालों ने अभी तक मंजूरी नहीं दी है और आगे भी सहमति न देने के संकेत जताये है। दरअसल अधिकतर प्राइवेट अस्पताल इस योजना से होने वाले खर्चे और उसके एवज में मिलने वाले पैकेज को लेकर संतुष्ट नहीं हैं। हालांकि कुछ अस्पतालों ने इस योजना में सहमति जताते हुए इसकी प्रॉसेस भी शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक कई बड़े हॉस्पिटल ग्रुप्स का कहना है कि शुरुआत में भले ही वे इस स्कीम के लिए आगे बढ़ सकते है लेकिन लंबे समय तक इस पैकेज के साथ इस योजना को चला पाना बहुत मुश्किल है। 

दिल्ली में 2+2 वार्ता से पहले भारत को झटका, अमेरिका बोला एच-1बी वीजा की प्रक्रिया में नहीं होगा बदलाव

गौरतलब है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त के अवसर पर दिल्ली के लाल किले से इस योजना की घोषणा थी। सरकार ने इस योजना को 25 सितंबर तक लागु करने का मकसद रखा है। प्रधानमंत्री मोदी के मुताबिक भारत के गरीब परिवारों को बेहतर इलाज और गंभीर बीमारियों से बचाने के लिए आरोग्य भारत के इस अभियान की शुरुआत की जा रही है। इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए तक के फ्री हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दी जाएगी।

ख़बरें और भी 

दिल्‍लीवालों के लिए बुरी खबर, नहीं मिलेगा आयुष्मान योजना का लाभ

पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, 25 सितंबर से मिलेगा 5 लाख का फ्री हेल्थ कवर

2019 चुनाव: क्रूड बढ़ाएगा मोदी सरकार की मुश्किलें, आम आदमी भी झेलेगा महंगाई की मार

?