मीसा बंदियों की पेंशन बंदी के बाद अब कुछ ऐसा बोले भूपेश बघेल

रायपुर : प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मीसा बंदियों की पेंशन को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि मीसा बंदी स्वतंत्रता सेनानी नहीं हैं जो उन्हें पेंशन मिलनी चाहिए. जानकारी के लिए बता दें कि छत्तीसगढ़ सरकार ने पिछले दिनों मध्य प्रदेश की ही तरह प्रदेश के मीसा बदियों की पेंशन पर रोक लगा दी थी. 

पाकिस्तान : एक ही परिवार के 6 लोगों ने गंवाई जान, बम विस्फोट की भेंट चढ़ा शिक्षक का घर

सरकार ने बंद की पेंशन 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सीएम भूपेश बघेल सरकार ने फरवरी महीने से 300 मीसा बंदियों को दी जाने वाली पेंशन नहीं देने का फैसला लिया था. इस संबंध में सरकार की ओर से जिला कोषालय अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि वो बैंकों को ताकीद करें कि फरवरी से उन्हें इसका भुगतान न किया जाए. बता दें आपातकाल के दौरान देश के अन्य हिस्सों के तरह अविभाजित मध्य प्रदेश में भी बड़ी संख्या में लोग मीसा के तहत गिरफ्तार किए गए थे जिन्हे मीसाबंदी कहा जाता है.

रेप पीड़िता के साथ पुलिस कर्मचारी ने किया ऐसा घिनौना काम, वर्दी हुई शर्मसार

जानकारी के लिए बता दें प्रदेश सरकार के इस फैसले का विपक्ष में बैठी बीजेपी ने विरोध किया है. हालांकि सियासी विरोध के बाद भूपेश बघेल सरकार ने मीसा बंदियों को दी जाने वाली पेंशन की फिर से समीक्षा करने के निर्देश दिए थे.

राम मंदिर पर चल रही सियासत के बीच, रामविलास पासवान ने दिया बड़ा बयान

देश आज़ाद होने के बाद अंग्रेजों की जासूसी करते थे संघकर्मी - कांग्रेस

मोखा शहर में जबरदस्त बम धमाका, 7 यमन नागरिकों की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -