'एकमात्र मुस्लिम बहुल राज्य का विभाजन कर दिया...' महबूबा ने फिर अलापा धारा-370 का आरोप

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) सुप्रीमो महबूबा मुफ्ती ने बुधवार (28 जुलाई 2021) को पार्टी के 22वें स्थापना दिवस के अवसर पर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए जम्मू-कश्मीर में विशेष दर्जे को बहाल किए जाने की माँग की। महबूबा ने कहा कि राज्य से 5 अगस्त 2019 को जो भी गैर कानूनी तरीके से छीना गया है, उसे ब्याज के साथ वापस करना पड़ेगा। बता दें कि इस दिन मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटा दी थी। श्रीनगर स्थित पार्टी हेडक्वार्टर में एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी सम्मान के साथ शाँति की वकालत और जम्मू-कश्मीर के लोगों की पहचान और अधिकारों के लिए लड़ती रहेगी। 

महबूबा मुफ़्ती ने आगे कहा कि, 'यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत में एकलौते मुस्लिम बहुल राज्य विभाजित कर दिया गया है और ये सब भारत और उसके संविधान के द्वारा नहीं, बल्कि एक पार्टी द्वारा किया गया है।' इतना ही नहीं महबूबा मुफ़्ती ने केंद्र पर संस्थानों को कमजोर करने का आरोप लगाते हुए भाजपा को आधुनिक ईस्ट इंडिया कंपनी बताते हुए कहा कि इजरायल से मशीनें लाकर भारत के लोगों पर निगाह रखी जा रही है। यही कार्य ईस्ट इंडिया कंपनी भी करती थी। उन्होंने अपने भाषण में जम्मू-कश्मीर की पहचान और कश्मीर विवाद के सुलझने तक जंग लड़ने की बात कही।

महबूबा ने आगे कहा कि, 'जब भारत 70 वर्षों बाद अंग्रेजों से आजादी हासिल कर सकता है, जब भाजपा 70 साल बाद जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा छीन सकती है, तो हम अपने अधिकारों के लिए क्यों नहीं लड़ सकते? जम्मू-कश्मीर के लोग भारत के साथ रहना चाहते हैं और अपनी आवाज उठाना जारी रखेंगे और विशेष दर्जे की बहाली की माँग करते रहेंगे।'

राहुल गांधी ने फिर उछाला पेगासस मुद्दा, केंद्र सरकार पर साधा निशाना

सार्वजनिक स्थानों पर जाने के लिए फ्रांस ने जारी किया ये स्पेशल पास

फोटोग्राफर्स से परेशान होकर बोले राज ठाकरे- 'मैं क्या कोई राज कुंद्रा हूं जो तुम मेरी..'

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -