इंदौर: फैक्ट्रियों में अटके पड़े है यूरोप-अमेरिका के ऑर्डर, उद्योगपति कर रहे ये मांग

कोरोना के प्रकोप को रोकने के लिए लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया गया. वहीं, इंदौर के एक्सपोर्ट यूनिट चलाने वाले उद्योगपतियों ने प्रशासन से फैक्ट्री शुरू करने की अनुमति जल्द से जल्द जारी करने की मांग की है. अधिकारियों के साथ 15 प्रमुख उद्योगपतियों की बैठक में यह मांग उठी है. एक उद्योगपति ने कहा कि यूरोप में समर सीजन आ चुका है. हमारा माल तैयार है, अगर अभी माल नहीं भेजा तो एक वर्ष का कारोबार बर्बाद हो जाएगा. अन्य जिलों व संभागों में फंसे श्रमिकों को इंदौर लाने में भी उद्योगपतियों ने प्रशासन से अनुमति मांगी है. प्रशासन ने 30-30 उद्योगों को चरणबद्ध अनुमति देने की हामी भरी है. हालांकि उद्योगपति इस संख्या से खुश नहीं है.

दरअसल, रेसीडेंसी कोठी में शनिवार शाम हुई बैठक में उद्योगपतियों के साथ एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मप्र (एआइएमपी) के पदाधिकारी, कलेक्टर मनीष सिंह और मध्यप्रदेश इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (एमपीआइडीसी) के क्षेत्रीय संचालक कुमार पुरुषोत्तम मौजूद थे. इंदौर समेत अमेरिका में फैक्ट्री संचालित कर रहे जश इंजीनियरिंग के प्रतीक भाई पटेल ने कलेक्टर से कहा कि अगर जल्द अनुमति जारी नहीं की गई तो करोड़ों का नुकसान होगा. 13 करोड़ का माल तो हमारी फैक्ट्री में पुराने ऑर्डर का तैयार है जिसे सप्लाई किया जाना था, लेकिन लॉकडाउन की वजह से अटका हुआ है. उन्होंने कहा कि पीथमपुर एसईजेड के साथ सांवेर रोड पर भी हमारी फैक्ट्री है. सभी एक-दूसरे से जुड़ी हैं इसलिए किसी एक प्लांट को अनुमति देने से काम नहीं होगा. उन्होंने अधिकारियों से कहा कि हम फैक्ट्री में मजदूरों को रखने को तो तैयार हैं लेकिन आप सोचिए कि क्या सुपरवाइजर घर छोड़कर उनके साथ वहां रह सकेंगे. प्रशासन को व्यावहारिक दिक्कतों को समझते हुए निर्णय लेना चाहिए. सुरक्षा संबंधी सभी उपाय हम करने को तैयार हैं.

बता दें की इस लॉकडाउन के चलते कई उद्योगों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है. वहीं, पीथमपुर में डिटर्जेंट व हैंडवाश फैक्ट्री संचालित कर रहे उद्योगपति ने कहा कि हमारे 35 श्रमिक सागर में फंसे हुए हैं. हम उन्हें लाना चाहते हैं. बस भेजने को तैयार हैं लेकिन वहां से अनुमति नहीं मिल रही. इस पर कलेक्टर ने एमपीआइडीसी के कुमार पुरुषोत्तम से कहा कि इस संबंध में सागर कलेक्टर से बात कर समन्वय कराएं.

विदेशों में फंसे यात्री और पर्यटक को विशेष विमान से लाया जाएगा भोपाल

आगरा में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले, सीएम योगी ने किया CMO और अपर निदेशक का ट्रांसफर

भोपाल में 700 के पार हुई कोरोना मरीजों की संख्या, अब तक 33 की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -