लावा करेगा गलवां घाटी में शहीद जवानों के परिजनों की मदद

भारतीय मोबाइल हैंडसेट ब्रांड, लावा इंटरनेशनल लिमटेड ने गलवां घाटी में शहीद हुए जवानों के परिववारों को 40 लाख रुपये का योगदान देने का एलान किया है। कंपनी ने अपने एक बयान में कहा है कि जुलाई महीने की बिक्री के माध्यम से इस राशि जवानों के परिजनों को प्रदान की जाएगी।वहीं  लावा यह राशि नई दिल्ली के साउथ ब्लॉक में आर्मी बैटल कैजुअल्टीज वेलफेयर फंड में देगी।

वहीं लावा के प्रेसिडेंट और बिजनेस हेड सुनील  रैना ने कहा, 'एक भारतीय ब्रांड के रूप में हम अपने  बहादुर सैनिकों की देशभक्ति को सलाम करते हैं, जिन्होंने LAC में कड़ी लड़ाई लड़ी और अपनी मातृभूमि की रक्षा करते हुए अपनी जान दी। एक राष्ट्र के रूप में, यह हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है कि हम अपने राष्ट्र के लिए किसी भी खतरे के खिलाफ एकजुट हों और देश के लिए अपना काम करें।'

कंपनी के अपने फोन को खरीदने की अपील की है, क्योकि लावा की जुलाई की बिक्री से ही यह राशि जवानों को परिजनों को दी जाएगी। कंपनी ने कहा है कि हर बार जब आप लावा फोन खरीदते हैं तो  आपके पास भारत के बहादुर शहीदों में योगदान करने  का मौका होता है।बता दें कि भारत-चीन सीमा विवाद के बाद से देश में चाइनीज प्रोडक्ट के बहिष्कार की मुहिम तेज हो गई है। ऐसे में घेरलू ब्रांड की मांग बढ़ रही है। लोग सोशल मीडिया पर घरेलू कंपनियों से फोन लॉन्च करने को कह रहे हैं। कुछ दिन पहले ही लावा का एक स्मार्टफोन बेंचमार्क साइट पर देखा गया है जो कि जल्द ही लॉन्च हो सकता है।

यह मोबाइल गेम जो भारतीय फिल्मों पर हैं आधारित

गूगल फ्री में यूजर्स के लिए लॉन्च करने वाला है न्यूज सर्विस

Acer : गेमिंग लवर्स के​ लिए कंपनी ने लॉन्च किए शानदार लैपटॉप्स

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -