बाबरी विध्वंस की बरसी आज, इस दिन जानिए 'अयोध्या' का प्राचीन इतिहास

अयोध्या: श्री राम की नगरी अयोध्या, भारत के उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले का एक नगर और जिले का मुख्यालय है। सरयू नदी के तट पर बसा अयोध्या अति प्राचीन धार्मिक नगर माना जाता है। मान्यता यह भी है कि इस नगर को मनु ने बसाया था और इसे 'अयोध्या' का नाम दिया, जिसका अर्थ होता है अ-युध्य यानी 'जिसे युद्ध के द्वारा न जीता जा सके। इसे 'कोसल जनपद' ने नाम से भी जाना जाता था। पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक, अयोध्या में सूर्यवंशी/रघुवंशी/अर्कवंशी राजाओं का शासन हुआ करता था, जिसमें भगवान् श्री राम ने अवतार लिया। 

प्रसिद्ध चीनी यात्री ह्वेन त्सांग 7वीं शताब्दी में अयोध्या आया था। उसके मुताबिक, यहाँ 20 बौद्ध मंदिर थे और 3000 भिक्षु यहां रहते थे। यह नगरी सप्त पुरियों में भी शामिल है। बता दें कि, धर्मग्रंथों के अनुसार, अयोध्या, मथुरा, हरिद्वार, काशी, काञ्चीपुरम, उज्जैन, और द्वारिका,  ये सात पुरियाँ नगर मोक्षदायी कही गई हैं। वेद में अयोध्या को ईश्वर का नगर कहा गया है और इसकी सम्पन्नता की तुलना स्वर्ग से की गई है। अथर्ववेद में यौगिक प्रतीक के रूप में अयोध्या का जिक्र है। वहीं, जैन मत के मुताबिक, यहां चौबीस तीर्थंकरों में से पांच तीर्थंकरों का जन्म हुआ था। क्रम से प्रथम तीर्थंकर ऋषभनाथ जी, दूसरे तीर्थंकर अजितनाथ जी, चौथे तीर्थंकर अभिनंदननाथ जी, पांचवे तीर्थंकर सुमतिनाथ जी और चौदहवें तीर्थंकर अनंतनाथ जी का जन्म अयोध्या में हुआ था।

इसके अलावा जैन और वैदिक दोनों मतों के मुताबिक, भगवान रामचन्द्र जी का जन्म भी इसी धरा पर हुआ था। उक्त सभी तीर्थंकर और भगवान रामचंद्र जी सभी इक्ष्वाकु वंश से थे। अयोध्या का महत्व इसके प्राचीन इतिहास में निहित है, क्योंकि भारत के प्रसिद्ध एवं प्रतापी क्षत्रिय राजाओं (सूर्यवंशी) की राजधानी यही नगर रहा है। उक्त क्षत्रियों में दाशरथी रामचन्द्र अवतार के रूप में पूजे जाते हैं। पहले यह कोसल जनपद की राजधानी हुआ करता था। प्राचीन उल्लेखों के मुताबिक, तब इसका क्षेत्रफल 96 वर्ग मील था। 

'हमारे जवानों को कोई हल्के में नहीं ले', BSF स्थापना दिवस कार्यक्रम में बोले अमित शाह

राकेश टिकैत को मिलेगा अंतर्राष्ट्रीय सम्मान, लंदन की इस कंपनी ने किया ऐलान

NIMHANS दे रहा इन पदों पर नौकरी का शानदार मौका, जल्द करें आवेदन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -