चैलेंज का फितूर या जान का जोखिम

Aug 02 2018 05:44 PM
चैलेंज का फितूर या जान का जोखिम

आजकल सोशल मीडिया पर एक  चैलेंज चल रहा है। नाम है किकी चैलेंज। लोग इस चैलेंज को पूरा करने के लिए अपनी कार से उतरकर सड़क पर नाचने लगते हैं और फिर नाचते—नाचते कार में ​बैठ  जाते हैं। उनका साथी इसका वीडियो बनाता है और सोशल मीडिया पर यह वीडियो हजारों लाइक्स  पाता है। यह पागलपन कई बार  खतरनाक साबित होता है। जहां ​किकी चैलेंज को लेकर भारत सहित दुनिया भर की  पुलिस परेशान है और लोगों को इसे न करने को लेकर आगाह कर रही है, वहीं इसके बीच एक और चैलेंज सामने आ गया है, इसका नाम है Dragon's Breath।

EDITOR DESK: हंगामा क्यों है बरपा?

इसमें एक कैंडी मुंह में  रखी जाती है, जो मुंह में रखते ही धुआं छोड़ती है। बताया जा रहा है कि इसमें कैंडी को लिक्विड नाइट्रोजन में डुबोया जाता है। यह स्वास्थ्य के लिए खासा घातक है। सबसे बड़ी बात लोग इसके घातक प्रभाव को जानते हुए भी इसे अपना रहे हैं और अपने वीडियो पोस्ट कर वाहवाही लूट रहे हैं। 


अब यहां पर सवाल खड़ा होता है कि आखिर उनकी इस मानसिकता के पीछे वजह क्या है? क्या यह  चैलेंज एक्सपेप्ट करने का फितूर है या कुछ और। दरअसल अगर इसकी वजह ढूंढी जाए, तो यह प्रसिद्धि की चाहत पर आकर टिकती है। एक वीडियो पर सोशल मीडिया में हजारों लाइक्स और कमेंट की तादाद युवाओं को मजबूर कर देती है, ऐसे चैलेंज करने के लिए। वे ​बिना कुछ सोचे ऐसे चैलेंज को स्वीकार कर लेते हैं। ऐसे में युवाओं को यह समझना होगा कि ये लाइक्स और कमेंट की चाहत उन्हें  कुछ पल की  खुशी जरूर दे दे, लेकिन इससे ​कितने लोगों को परेशानी उठानी पड़ सकती है। उनकी खुद की जिंदगी के लिए भी यह खतरा बन सकता है। अगर वह  इसे समझ लेंगे, तो इस तरह के चैलेंज को लेकर पुलिस को कदम उठाने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। 

जानकारी और भी

EDITOR DESK : महागठबंधन को गठबंधन की दरकार

EDITOR DESK: इमरान की जीत भारत के लिए साबित होगी 'बाउंसर'

पाकिस्तान चुनाव: पाक मीडिया की नज़र में

?