कश्मीर युवाओं को आ रही अक्ल, बौखलाए पाक ने आतंकियों को सुनाया ये फरमान

Jun 20 2019 07:00 PM
कश्मीर युवाओं को आ रही अक्ल, बौखलाए पाक ने आतंकियों को सुनाया ये फरमान

श्रीनगर: कश्मीर घाटी में झूठे प्रोपेगेंडा से बहकावे में आकर आतंक का रास्ता अपनाने वाले युवकों की वापस समाज में लौटने की घटनाओं से परेशान पाकिस्तान ने आतंकवादी गिरोहों को नया फ़रमान सुनाया है. किसी युवक को आतंकवादी संगठन में भर्ती करने से पहले उससे बड़ी आतंकी कार्रवाई करवाओ. हाल में ही खुफ़िया एजेंसियों को पता चला है कि अब आतंकी संगठन हिज़बुल मुजाहिदीन में शामिल होने से पूर्व प्रत्येक युवक को कोई आतंकी वारदात करनी पड़ेगी.

दरअसल, पिछले कुछ समय से ऐसी वारदातें तेज़ी से बढ़ी हैं, जिनमें आतंकवाद का रास्ता अपना चुके नौजवानों ने हथियार डाल दिए और वापस मुख्यधारा में लौट आए. इस तरह की घटनाओं ने पाकिस्तान को बेचैन कर दिया है. इसलिए उसने हिज़बुल मुजाहिदीन में शामिल होने के लिए ये नई शर्त लागू करने को कहा है. आतंक का रास्ता अपना चुके नौजवानों को वापस लाने में सुरक्षा बलों के साथ ही इन नौजवानों के घरवालों की भी अहम् भूमिका रहती है. 

कुछ ही दिन आतंकवादियों के साथ रहने पर इन नौजवानों को वास्तविकता का पता चल जाता है और वे घर वापसी करना चाहते हैं. सुरक्षा बल ऐसे नौजवानों की न सिर्फ सुरक्षित वापसी पक्की करते हैं बल्कि वो इनकी फिर से सामान्य ज़िंदगी शुरू करने में भी सहायता करते हैं. हिज़बुल मुजाहिदीन में स्थानीय युवक ही होते हैं इसलिए इनके माता-पिता भी वापसी की अपील करते हैं और हाल के वक़्त में कई दफा देखा गया है कि इसके अच्छे नतीजे निकले हैं. 

आज बढ़ी गिरावट के साथ हुई बाजार की शुरुआत

नौसेना से लेकर BSF तक सभी कर रहे योग अभ्यास, कल मनाया जाएगा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस

राष्ट्रीय कार्यकारिणी में जाने से सिद्धू का इंकार, अब आगे ऐसे समीकरण