ब्यूरो चीफ की हत्या के विरोध में पत्रकारों ने निकाला प्रतिरोध मार्च

जमुई : हिंदुस्तान अखबार के ब्यूरो चीफ राजदेव रंजन की हत्या के विरोध में रविवार को पत्रकारों ने प्रतिरोध मार्च निकाला। इस मार्च में प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक दोनों के पत्रकारों ने भाग लिया। नागेश्वर कॉमप्लेक्स से निकाला गया मार्च जिलाधिकारी डॉ कौशल किशोर के आवास पर पहुंचा।

वहां स्थित उनके कार्यालय में पत्रकारों ने उनसे मुलाकात की और राज्यपाल व सीएम के नाम ज्ञापन सौंपा। पत्रकारों की मांग है कि रंजन के परिजनों को 50 लाख रुपया मुआवजे के तौर पर दिए जाए और परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी दी जाए। ज्ञापन में पत्रकारों की सुरक्षा की मांग भी की गई।

प्रतिरोध मार्च में सत्येंद्र सिंह, जितेंद्र झा, केसी कुंदन, मुरली दीक्षित, राकेश सिन्हा, सुधांशु लाल, सूरज कुमार, बृजमोहन भगत, राकेश कुमार सिंह, मृत्युंजय सिंह, अभिषेक कुमार समेत दर्जनों पत्रकार शामिल हुए। शिक्षक संघ ने भी रंजन की हत्या की कड़ी निंदा की है।

शिक्षक प्रतिनिधियों ने शिक्षक संघ भवन में रविवार को बैटक कर एक साथ सरकार से अपील की कि वो हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करे। शिक्षक संघ के प्रदेश सह सचिव आनंद कौशल ने कहा कि पत्रकार की हत्या जनता के आवाज को दबाने की साजिश है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -