ड्रोन अटैक का बढ़ा संकट, लगातार तीसरे दिन मिलिट्री स्टेशन के समीप नजर आए कई और ड्रोन

जम्मू: इस समय जम्मू कश्मीर कई कारणों से चर्चाओं में बना हुआ है वही इस बीच अब आने वाले समय में ड्रोन अटैक का भी संकट बढ़ता जा रहा है। 2 दिन पूर्व ही रविवार प्रातः जम्मू में स्थित वायुसेना स्टेशन पर हुए ड्रोन अटैक के पश्चात् पहले ही जांच जारी है, अब इस बीच सोमवार देर रात भी जम्मू के मिलिट्री स्टेशन पर कई और संदिग्ध ड्रोन देखे गए, जिसके पश्चात् एक और अलर्ट जारी कर दिया गया है। ये ड्रोन जम्मू की तीन भिन्न-भिन्न जगहों पर लगभग 1:30 से 4:30 के बीच देखे गए। 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, ये ड्रोन कुंजवानी, रत्नुचक तथा कलूचक क्षेत्र के पास देखे गए, जो कुछ देर पश्चात् ही गायब हो गए थे। सुरक्षाबलों ने पहला ड्रोन कलूचक छावनी इलाके में, दूसरा रत्नुचक छावनी में तथा तीसरा कुंजवानी इलाके में देखा। हालांकि सेना की ओर से ड्रोन पर गोलीबारी नहीं की गई तथा जांच के आदेश जारी कर दिए गए हैं। इस बात की भी पड़ताल की जा रही है कि तीन स्थानों पर नजर आने वाले ड्रोन अलग-अलग थे, ये तीनों स्थानों पर एक ही ड्रोन था। सोमवार रात की घटना के पश्चात् क्षेत्र के वरिष्ठ पुलिस अफसर विजय कुमार ने कहा कि इस घटना ने सुरक्षा एजेंसियों के लिए एक नया संकट उत्पन्न कर दिया है। निश्चित तौर पर यह एक बड़ी चुनौती है, इसे तकनीकी तौर पर ही नियंत्रित किया जा सकता है।

वही इससे पूर्व जम्मू में उच्च सुरक्षा वाले हवाई अड्डा परिसर में स्थित वायुसेना स्टेशन में रविवार प्रातः विस्फोटक से लदे दो ड्रोन गिरे, जिनसे धमाका हुआ। खबर के अनुसार, पाकिस्तान के दहशतगर्दों ने पहली बार ड्रोन के माध्यम से हमला किया है। अफसरों ने बताया कि पहला विस्फोट रात 1 बजकर 40 मिनट के आसपास हुआ, जिससे हवाई प्रतिष्ठान के टेक्निकल क्षेत्र में एक इमारत की छत ढह गई। 

कोरोना वैक्सीन को लेकर ऑक्सफोर्ड की स्टडी में हुआ बड़ा खुलासा, एक्सपर्ट्स ने कही ये बड़ी बात

आज मनाया जा रहा है राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस, जानिए क्या है इसका महत्त्व

भारत का गलत नक्शा दिखाने पर फंसा ट्विटर, MD मनीष माहेश्वरी के खिलाफ दर्ज हुआ मुकदमा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -