वायु सेना ड्रोन से बढ़ा रही अपनी ताकत

Sep 08 2015 12:31 PM
वायु सेना ड्रोन से बढ़ा रही अपनी ताकत

नई दिल्ली : भारत द्वारा अपने सैन्य अंगों को सैन्य उपकरणों और साजो सामान से लैस किया जा रहा है। इस दौरान यह कहा जा रहा है कि भारत अब अपने हवाई बेड़े को मजबूत करना चाहता है। यही नहीं इस बेड़े में आतंकवाद से लड़ने की तैयारी की जा रही है। रक्षामंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार 27 करोड़ रूपए में वायु सेना द्वारा गरूड़ कमांडो फोर्स को मजबूत किया गया है, जिसमें कहा गया है कि इस बेड़े में 65 खोजी ड्रोन खरीदे गए हैं। यही नहीं नौसेना में मरीन कमांडोज़ के लिए 2017 करोड़ की लागत से अत्याधुनिक सबमरीन भी इजाद की जा रही है जिससे इसकी शक्ति बढ़ेगी। 

उल्लेखनीय है कि लगभग एक दशक पूर्व श्रीनगर के अवंतीपुरा और गुवाहाटी के एयरबेस पर आतंकी हमलों के बाद गरूड़ विमान को सेना में शामिल किया गया। विमानों में 60 कमांडो वहन करने की क्षमता है, यही नहीं यह विमान शत्रु के रडार के साथ हमलावर विमानों को मारने की क्षमता रखता है। इस दौरान कहा गया कि भारतीय सेना ने कारगिल युद्ध के बाद अपने बेड़े में ड्रोन शामिल किए जो कि इज़राईली हैं। ये ड्रोन क्रूज़ मिसाईल की तरह कार्य करते हैं।