रूस में आमने-सामने बैठे भारत और तालिबान के नेता, अफ़ग़ानिस्तान संकट पर हुई बातचीत

नई दिल्ली: अफगानिस्तान मुद्दे पर मॉस्को फॉर्मेट में बुलाई रूस की बैठक में तालिबान और भारत के बीच वार्ता हुई. अफगानिस्तान की अंतरिम सरकार में उपप्रधानमंत्री अब्दुल सलाम हनफी की अगुवाई वाले तालिबानी प्रतिनिधिमंडल के साथ भारत के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को मुलाकात की. भारतीय विदेश मंत्रालय के पाकिस्तान-अफगानिस्तान-ईरान डिविजन के संयुक्त सचिव जेपी सिंह के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल ने रूस के निमंत्रण पर इस बैठक में भाग लिया और तालिबान के नेताओं से बात की. 

तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने एक बयान जारी करते हुए इस संबंध में जानकारी दी. हालांकि, भारत सरकार की तरफ से अभी तक इस बैठक को लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है. बता दें कि भारत और तालिबान की पहली औपचारिक बैठक 31 अगस्त को दोहा में हुई थी. हालांकि, तालिबान की अंतरिम कैबिनेट की घोषणा के बाद दोनों के बीच ये पहली मुलाकात थी. अफगानिस्तान के टोलो न्यूज ने मुजाहिद के हवाले से बताया कि भारत ने इस बैठक में अफगानिस्तान को मानवीय मदद देने की इच्छा प्रकट की.
 
भारत पहले भी अफगानिस्तान में इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ ही मानवीय मदद भी देता रहा है. मुजाहिद ने कहा कि बैठक के दौरान दोनों पक्षों ने राजनयिक और आर्थिक संबंधों में सुधार की आवश्यकताओं पर भी जोर दिया.

दुनिया देखेगी हिंदुस्तान का दम, 100 करोड़ टीकाकरण पर होगा जबरदस्त जश्न

इतने प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुआ बाजार, जानिए क्या है निफ़्टी और सेंसेक्स का हाल

श्रीलंका के मंत्री नमल राजपक्षे ने की पीएम मोदी से मुलाकात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -