पाकिस्तान FATF की ग्रे लिस्ट में बरक़रार, भारत बोला - आतंकी फंडिंग रोकने में नाकाम रहा पाक

नई दिल्ली: पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में बनाए रखने के फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) के फैसले पर विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाक के निरंतर ग्रे लिस्ट में बने रहने से हमारी यह स्थिति साफ़ हो जाती है कि पाक ने आतंक की फंडिंग को दूर करने के लिए ठोस कार्रवाई नहीं की है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान लगातार FATF की ग्रे लिस्ट में बना हुआ है. 

विदेश मंत्रालय ने ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कंट्रीज (OIC) पर कहा कि OIC के पास जम्मू-कश्मीर सहित हमारे किसी भी आंतरिक मुद्दों के लिए कोई जगह नहीं है. OIC को ऐसे अवांछित मुद्दों से बचना चाहिए. विजय माल्या के संबंध में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि उनके भारत प्रत्यर्पण को लेकर कोई ताज़ा जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा कि हम ब्रिटिश सरकार से माल्या के जल्द प्रत्यर्पण को लेकर संपर्क में हैं.

इससे पहले बुधवार को कोरोना से बुरी तरह प्रभावित पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मंच पर एक और तगड़ा झटका लगा है. आतंकियों को समर्थन देने वाला पाकिस्तान फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की ग्रे लिस्ट में बना रहेगा. अधिकारियों ने बताया कि FATF ने बुधवार को पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में रखने का निर्णय लिया है, क्योंकि वह लश्कर और जैश जैसे आतंकी संगठनों को पहुंचने वाली फंडिंग पर नकेल कसने में विफल रहा है.

लगातार 20 दिनों से झटका दे रहा पेट्रोल, डीजल के दाम भी आसमान पर पहुंचे

कोरोना का अंत साबित हो सकती है 'कोविफोर' दवा, बाजार में पहुंची पहली खेप

असम में कोरोना का कहर जारी, 88 नए मामले आए सामने

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -