U-19 विश्व कप: भारत ने जापान को दी करारी मात, आधी टीम नहीं खोल पाई खाता

U-19 विश्व कप: भारत ने जापान को दी करारी मात,  आधी टीम नहीं खोल पाई खाता

दक्षिण अफ्रीका में जारी U-19 विश्व कप के अपने दूसरे मैच में  भारतीय टीम ने कमाल कर दिया. जंहा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहला मैच खेल रही जापानी टीम को भारतीय नौजवानों ने महज 41 रन पर समेट दिया. यह अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के 32 साल के इतिहास में संयुक्त रूप से दूसरा न्यूनतम स्कोर था. टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लेते हुए भारतीय कप्तान प्रियम गर्ग के लड़ाकों ने जापानी पारी 22.5 ओवर्स में ही रोक दी. जापान का कोई भी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाया. पांच बल्लेबाज तो खाता तक नहीं खोल पाए. दिलचस्प बात है कि इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने 12 वाइड के साथ 19 रन (Lb 7, W12) अतिरिक्त दिए. जवाब में टीम इंडिया ने महज 4.5 ओवर्स में ही पूरे 10 विकेट से मैच भी जीत लिया. स्पिनर रवि बिश्नोई ने आठ ओवर्स में पांच रन देकर सर्वाधिक चार विकेट चटकाए.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अंडर-19 विश्व कप में न्यूनतम टोटल का शर्मनाक रिकॉर्ड स्कॉटलैंड के नाम है. 2004 में बांग्लादेश में हुए इस विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया ने 22.3 ओवर्स में स्कॉटलैंड की पारी को समेटा था. इसके पहले 2002 में दक्षिण अफ्रीका ने भी कनाडा को 41 रन पर ही रोका था. न्यूजीलैंड की सरजमीं पर हुए उस विश्व कप के फाइनल में प्रोटियाज टीम को ऑस्ट्रेलिया ने पटका था. अब 2020 में भारतीय टीम ने जापान को भी 41 रन पर ही ऑलआउट कर दिया.

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि  इसके पहले भारतीय गेंदबाजों ने इतना शानदार प्रदर्शन 2014 विश्व कप में किया था. भारत को उस टूर्नामेंट में ग्रुप-ए में तब दो बार के चैंपियन पाकिस्तान, स्कॉटलैंड और पापुआ न्यू गिनी के साथ रखा गया था. टीम की कमान बल्लेबाज विजय जोल संभाल रहे थे. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए तब टीम इंडिया ने 301/6 रन बनाए थे. जवाब में पूरी पापुआ न्यू गिनी की टीम 56 रन पर ही बिखर गई थी और भारत को 245 रन की विशाल जीत मिली थी.

NZvIND: घायल होने के बाद अब यह 3 खिलाड़ी ले सकते है धवन की जगह

आईआईएम उदयपुर ने वार्षिक खेल उत्सव उत्कृष्ट का उदयपुर कैंपस में 18-19 जनवरी का आयोजन हुआ

Australian Open Update 2020: इस खिलाड़ी ने की जीत से शुरुआत, शारापोवा हुआ बाहर