फिरोजशाह कोटला में अब तक ऐसा रहा है, भारतीय टीम का प्रदर्शन

नई दिल्ली : पिछले दो मैच जीतने के बाद ऑस्ट्रेलिया का मनोबल सातवें आसमां पर है तो दूसरी ओर है वो भारतीय टीम जो विश्व कप से पहले अपना आखिरी वन-डे खेलने उतरेगी। दो-दो मैच जीतकर दोनों ही टीम दिल्ली में पूरा जोर लगा देगी क्योंकि जो मैच जीतेगा वही सीरीज पर भी कब्जा करेगा। मुकाबला दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर होगा। ऐसे में यह जानना भी बेहद जरूरी हो जाता है कि इस मैदान पर भारतीय टीम का रिकॉर्ड कैसा है.

एक बार फिर रियाल मैड्रिड के कोच बने जिनेडिन जिडान

अब तक ऐसा रहा रिकॉर्ड 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार कोटला में खेले गए पिछले दस मुकाबलों में भारतीय टीम छह मैच जीतने में कामयाब रही है। इसके अलावा दो में उसे हार का सामना करना पड़ा है, जबकि एक मैच एक रद्द तो एक मैच में कोई परिणाम ही नहीं निकला था। भारत ने अंतिम बार यहां अक्टूबर 2016 में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच खेला था। इस मुकाबले में उसे छह रन से हार मिली थी। इससे पहले भारतीय टीम यहां लगातार चार मैच में जीत का झंडा बुलंद कर चुकी है। 

धोनी और पंत के बीच तुलना ठीक नहीं : भरत अरुण

कई बार पिच बना मुसीबत 

जानकारी के लिए बता दें इससे पहले साल 2009 में श्रीलंकाई टीम भारत दौरे पर आई थी। इस दौरान कोटला में सीरीज का पांचवां मैच खराब पिच के चलते मैच रद कर दिया गया। पिच पर आसमान उछाल के चलते श्रीलंका के कई बल्लेबाज चोटिल हो गए थे। इसके बाद ICC ने कोटला के खिलाफ एक्शन लेते हुए कुछ समय के लिए इसे बैन कर दिया गया। साल 2013 में पाकिस्तान टीम 3 वनडे और 2 टी-20 मैचों की सीरीज के लिए भारत आई। इस दौरान सीरीज का तीसरा मैच कोटला में खेला गया। भारत को इस मैच में 10 रन से जीत मिली।

वार्न ने कही धोनी की तारीफ में कुछ ऐसी बात

पोंटिंग के अनुसार इस कारण हो सकता है, ऑस्ट्रेलियाई टीम को वर्ल्ड कप में नुकसान

आईसीसी टी-20 रैंकिंग : राहुल ने लगाई लंबी छलांग तो पांचवे स्थान पर पहुंचे कुलदीप

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -