अल्पसंख्यकों के मन में है भय और असुरक्षा की भावना

पणजी : गोवा में रोमन कैथोलिक चर्च के प्रमुख आर्चबिशप फिलिप नेरी फेराओ ने कहा है कि रायपुर में एक दिल दहला देने वाली घटना में एक नन के साथ गैंगरेप की घटना हुई यह एक शर्मनाक हरकत है और मैं व मेरे साथ पूरा देश इस घटना की कड़ी से कड़ी शब्दों में निंदा करता है तथा दोषियों को भी कड़ी से कड़ी सजा दी जाएं । फेराओ गोवा में रोमन कैथोलिक चर्च के प्रमुख हैं। गौरतलब है कि गोवा की 26 फीसदी आबादी रोमन कैथोलिक ईसाई है। फेराओ ने कहा की देश में अल्पसंख्यकों के मन में भय और असुरक्षा की भावना घर करती जा रही है। 

साथ ही उन्होंने कहा की भारत में अल्पसंख्यकों के सिर पर मंडरा रहे भय और असुरक्षा के बादल छंट जाएं और हम जल्द ही स्वतंत्रता, शांति और न्यायपूर्ण जीवन जी सकें। फादर आर्चबिशप ने कहा कि इस तरह के घ्रणित कार्य के कारण ही देश में कही पर भी महिलाएं सुरक्षित नहीं है | गैंगरेप जैसी घटना के लिए सरकार को कड़े से कड़े कानून बनाना चाहिए जिससे व्यक्ति ऐसा कार्य करने से पहले दस बार सोँचे।

रायपुर में जिस नन के साथ ऐसा हुआ है उसने अपना सारा जीवन ही लोगो की भलाई व गरीबो की सेवा में व्यतीत किया था। जिन लोगो ने यह शर्मनाक हरकत की है उन्हें क्या जरा सी भी शर्म नही आई होगी।  हमें इस बात की निराशा है कि अपराधियों को अब तक पकड़ा नहीं जा सका है। तथा में चाहता हु की जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़कर उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए ।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -