एक माँ ने फेंका झाड़ियो में तो दूसरी माँ ने अपना दूध पिलाया

रायपुर : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक निर्दयी माँ ने अपनी ही कलेजे की टुकड़े अपनी अपनी नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंक दिया था जिसे एक दूसरी माँ ने रोते हुए देख लिया व उसे अपनी ममता की छाँव प्रदान कर उसे अपना दूध पिलाया. दूध पिलाने वाली वह माँ थी जिसने एक बच्चे को जन्म दिया था जिसकी मौत हो गई थी. तथा झाड़ियो में फेंकी गई इस बच्ची को आए पूरे 6 दिन हो चुके हैं जो की पूरी तरीके से स्वस्थ है. यह मामला रायपुर के बेमेतरा जिले के झाल गांव का है।

इस नवजात मासूम बच्ची को उसकी निर्दयी माँ ने झाड़ियों में फेंक दिया था जिसे गांव वालो की सुचना के बाद 108 संजीवनी एंबुलेंस सेवा के जरिए बेमेतरा जिला अस्पताल में लाया गया था. इस अस्पताल में पहले से भर्ती एक गर्भवती महिला को डिलेवरी के कुछ ही समय पश्चात इसके जन्मे बच्चे की मौत हो गई थी. जिसके बाद उसके बच्चे के गम में उसके आंसू रुकने का नाम ही नही ले रहे थे.

फिर इसके बाद इस महिला को उसके पति ने झाड़ियो में फेंकी गई इस बच्ची को सौंपा जिसके बाद इस लावारिस बच्ची को अपनी बच्ची समझ महिला ने उसे सीने से लगा लिया और उसे अपना दूध पिलाया। वह चुप हो गई, परन्तु बाद में इस नवजात बच्ची को बाद में अंबेडकर अस्पताल रेफर कर दिया गया। 

Most Popular

- Sponsored Advert -